पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Father son Took Two Laborers Hostage In Money Transaction, Took Away Machinery Worth 20 Lakhs

ठगी का मामला:पैसों के लेन-देन में बाप-बेटे ने दो मजदूरों को बंधक बनाया, 20 लाख की मशीनरी ले गए

सूरत16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पांडेसरा पुलिस ने बाप-बेटे को गिरफ्तार किया, मशीनरी समेत अन्य सामान बरामद

पांडेसरा की तुलसीधाम सोसाइटी में 5 जुलाई, सोमवार को देर रात दो कारीगरों को एम्ब्रॉडरी के कारखाने में बंधकर बनाकर पिता-पुत्र क्रेन की मदद से ट्रक में दाे मशीन और कंप्यूटर समेत 20.29 लाख रुपए का सामान लादकर उठा ले गए थे। कारखाना मालिक अरुण पाठक ने इस मामले में पांडेसरा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।

पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से जांच की थी। पांडेसरा थाने के इंस्पेक्टर एमएन कातरिया और उनकी टीम ने जीतलाल पुत्र मगऊ पाल और उसके बेटे मनोज पाल को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने दाेनों को कोर्ट में पेश कर 2 दिन की रिमांड पर लिया है। इस मामले में भोलासिंह के रोल की पुलिस जांच कर रही है।

डेढ़ लाख के बदले 4 लाख रुपए से ज्यादा लेे चुके थे

जानकारी के अनुसार आरोपी मनोज ने डिंडोली में किराए पर कारखाना चालू किया था। पुलिस ने चुराई गई दोनों मशीनें, कंप्यूटर समेत सामान यहां से बरामद किया है। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के मूल निवासी जीतलाल पाल और बेटे मनोज पाल ने एम्ब्रॉयडरी का धंधा सीखने के लिए बातचीत की थी।

अरुण पाठक ने मनोज को अपने साथ रखकर काम सिखाया था। अरुण पाठक ने जीतलाल से 1.50 लाख रुपए उधार लिया था। अरुण पाठक ने मनोज को धीरे-धीरे 4.17 लाख रुपए चुकाया था। पैसों के लेनदेन में दोनों में विवाद हो गया था।

लेनदेन का मामला पांडेसरा में भोलासिंह जायसवाल के ऑफिस तक पहुंच गया था। भोलासिंह ने अरुण पाठक को अपने ऑफिस में बुलाकर 29.50 लाख का हिसाब निकाला था। अरुण पाठक ने रुपए देने से इनकार किया तो आरोपियों ने कहा था कि या तो रुपए दो या फिर कारखाने में पार्टनर बनाओ, नहीं तो हम सारी मशीनें उठा ले जाएंगे। पुलिस शिकायत दर्ज कर आगे की छानबीन कर रही है।

खबरें और भी हैं...