• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Finance Minister Assures Proper Decision, Textile Entrepreneur Told Finance Minister Keep GST Rates Unchanged

उद्यमियों में असंतोष:वित्तमंत्री ने उचित फैसले का दिया आश्वासन, वित्तमंत्री से कपड़ा उद्यमी बोले- जीएसटी की दरें यथावत रखें

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कपड़े पर जीएसटी का दर 5% से बढ़ाकर 12% किए जाने के बाद कपड़ा उद्यमियों में असंतोष है। उद्यमी इसका विरोध भी कर रहे हैं। कपड़ा उद्यमियों की समस्या को समझने के लिए मंगलवार को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने देशभर के तमाम अग्रणी कपड़ा उद्यमियों और संगठन प्रमुखों के साथ नई दिल्ली में मीटिंग की।

सूरत के कपड़ा उद्यमियों ने कहा कि जीएसटी की दर बढ़ाने से सूरत का कपड़ा उद्योग बुरी तरह से प्रभावित हो सकता है। इसलिए इसे यथावत रखा जाए। गुजरात के भाजपा प्रदेश प्रमुख सीआर पाटिल और केंद्रीय राज्य टेक्सटाइल मंत्री दर्शना जरदोष के नेतृत्व में सूरत से चैंबर ऑफ कॉमर्स और फैडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मीटिंग में उपस्थित रहे।

चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रमुख आशीष गुजराती ने कहा कि सूरत में एमएमएफ सेक्टर में 4000 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। यदि टैक्स स्ट्रक्चर बदला गया तो इससे निवेश को नुकसान हो सकता है। रिटेल सेक्टर में भी व्यापार प्रभावित होगा। गुजराती ने वर्तमान दरों को यथावत रखने की मांग की। फोस्टा के प्रमुख मनोज अग्रवाल और प्रवक्ता रंगनाथ शारडा ने भी कपड़ों पर जीएसटी का दर बढ़ाने से छोटे और मध्यम व्यापारियों के लिए मुसीबत खड़े होने का डर जताया। उन्होंने कहा कि जीएसटी का दर बढ़ने से रिटेल कारोबार कम हो सकता है। वित्तमंत्री ने इस पर उचित फैसले का आश्वासन दिया।

खबरें और भी हैं...