• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Friendship By Hiding Identity, Then Raping A Minor And Pressurized For Conversion; Forcibly Offered Namaz

सूरत में लव-जेहाद:पहचान छिपाकर की दोस्ती, फिर नाबालिग से बलात्कार कर धर्म परिवर्तन के लिए डाला दबाव; जबरन नमाज भी पढ़वाई

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

सूरत शहर के पुणागाम इलाके में एक सत्रह वर्षीय किशोरी को पहचान छिपाकर प्रेम जाल में फंसाने और फिर अपहरण व बलात्कार कर धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में पुणागाम पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

सोशल मीडिया के जरिए हुई थी दोस्ती
पुलिस के मुताबिक पुणागाम भैयानगर के निकट नारायण नगर निवासी मोहम्मद मलिक (21) ने इंस्टाग्राम के जरिए संपर्क में आई थी। सत्रह वर्षीय किशोरी को धोखे से अपने प्रेम जाल में फंसाया। उसके बाद बीते रविवार सुबह उसे बहला फुसला कर भगा ले गया। इस बारे में पीडि़ता के परिजनों को खबर होने पर उन्होंने पुणागाम पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुणागाम पुलिस तुंरत हरकत में आई। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने किशोरी को मुक्त करवा कर मोहम्मद मलिक को ढूंढ निकाला और गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में मोहम्मद मलिक ने बताया कि उसकी मां हिंदू है और पिता मुस्लिम है, लेकिन वह और उसके सभी भाई बहीन मुस्लिम धर्म को मानते है। वहीं, मामले की जांच एसीपी सी डीवीजन बीएम वसावा को सौंपी गई है।

राहुल के रूप में दी थी पहचान
मोहम्मद मलिक ने पीडि़त किशोरी को अपनी पहचान हिन्दु युवक राहुल के रुप में दी थी। उसने अपने हाथ पर राहुल नाम से गोदना भी गुदवा रखा था। जिसके चलते पीडि़त किशोरी उसके झांसे में आ गई और राहुल मान कर
उससे दोस्ती की थी।

धर्म परिवर्तन के लिए डाला दबाव
पुलिस ने बताया कि पीड़ित किशोरी को मोहम्मद मलिक सूरत से भगा कर करजण ले गया था। वहां पहुंचने पर जब उसकी हकीकत का खुलासा हुआ तो मोहम्मद मलिक ने युवती पर धर्मपरिवर्तन करने के लिए दबाव डाला।
उसे जबरन नमाज भी पढ़वाई।

खबरें और भी हैं...