• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Gujarat Hurricane Will Turn Into Shaheen, Reach Pakistan From Gulf Of Kutch, Strong Winds Will Blow In Coastal Areas

चक्रवाती तूफान का असर:दो दिन और कहर मचाएगा चक्रवाती तूफान 'गुलाब' दक्षिण गुजरात, सौराष्ट्र और मध्य गुजरात में भारी बारिश जारी

जूनागढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सौराष्ट्र में मछुआरों को लौटने की चेतावनी देता हुआ कोस्ट गार्ड। - Dainik Bhaskar
सौराष्ट्र में मछुआरों को लौटने की चेतावनी देता हुआ कोस्ट गार्ड।

बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान गुलाब की तीव्रता गुजरात के समुद्र तट तक पहुंचते ही बढ़ गई है। इसके असर से पिछले 24 घंटों में दक्षिण गुजरात, सौराष्ट्र और मध्य गुजरात में भारी बारिश हुई। प्रदेश की 196 तहसीलों में सामान्य से भारी बारिश हो रही है।

सौराष्ट्र के विसावदर में सबसे अधिक 10 इंच बारिश हुई। गिरनार जंगल में 12 इंच पानी गिरने से जूनागढ़ की सोनरख नदी में बाढ़ आ गई। भरूच में 14 घंटे लगातार बारिश होने से कई इलाके पानी में डूब गए हैं। एक अक्टूबर तक गुलाब तूफान का यह सिस्टम शाहीन तूफान में बदलने का अनुमान है।

जूनागढ़ में भारी बारिश के बाद सोनरख नदी में बहता पानी और प्रसिद्ध दामोदर कुंड।
जूनागढ़ में भारी बारिश के बाद सोनरख नदी में बहता पानी और प्रसिद्ध दामोदर कुंड।

65 बड़े डैम भरे, 73.89% जल संग्रह
सितंबर से जारी बारिश के चलते राज्य के 65 बड़े डैम भर गए हैं और 207 डैम में 73.89% जल संग्रह हो चुका है। सौराष्ट्र में औसतन 105% बारिश होने के चलते सभी डैम ओवरफ्लो हो चुके हैं। भावनगर के शत्रुंजी डैम से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है।

अब सिर्फ 3% फीसदी बारिश की कमी
गुलाब तूफान से 196 तहसीलों में जोरदार बारिश हो रही है। सड़कों पर पानी भर जाने के चलते 200 से ज्यादा रास्ते बंद हैं। पिछले चौबीस घंटों में विसावदर में 10, हांसोट में 8 इंच, गिर के जंगल में 12 इंच और भरूच में 14 घंटे में 9 इंच बारिश दर्ज की गई है। अब राज्य में मानसून की 3% बारिश की ही कमी है, जिसकी भरपाई आगामी दो दिनों में होने की संभावना है।

सौराष्ट्र, दक्षिण और मध्य गुजरात में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है।
सौराष्ट्र, दक्षिण और मध्य गुजरात में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है।

भारी बारिश की चेतावनी NDRF की 17 टीमें तैनात
भारी बारिश के चलते प्रदेश में एनडीआरएफ की 20 में से 17 और एसडीआरएफ की 11 में से 8 टीमों को तैनात कर दिया गया है। एनडीआरएफ की सूरत, वलसाड, नवसारी, राजकोट, गिर-सोमनाथ, अमरेली, पाटण, भावनगर, जूनागढ़, जामनगर, मोरबी, द्वारका, पोरंबंदर, खेड़ा ओर गांधीनगर में एक-एक टीमें तैनात की गई हैं। राजकोट, खेड़ा, जूनागढ़, जामनगर में एसडीआरएफ की टीमें रवाना की गई हैं।

पिछले 24 घंटों में कहां कितनी बारिश विसावदर 10 इंच हांसोट 8 इंच भावनगर 6 इंच कपराडा 6 इंच खंभात 6.6 इंच महुआ 5 इंच तिलकवाड़ा 6 इंच राजुला 6 इंच कालावाड़ 5.2 इंच बाबरा 4.5 इंच उना 3.2 इंच बगसरा 4.5 इंच तारापुर 5.2 इंच

खबरें और भी हैं...