पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • If The Manpa Did Not Listen, The Contractors Opened All 75 Parking Lots, The Workers Were Dying Of Hunger.

मनमानी:मनपा ने नहीं सुनी तो ठेकेदारों ने खोल दी सभी 75 पार्किंग, बोले-कर्मचारी भूखे मर रहे

सूरत6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पार्किंग चालू करने की मंजूरी देने की मांग की थी।
  • बंद होने के बावजूद मनपा मांग रही अप्रैल से अगस्त तक की लाइसेंस फीस
  • कॉन्ट्रैक्टर जुलाई से ग्राउंड और मल्टीलेवल पार्किंग चालू करने की मांग कर रहे थे

लॉकडाउन से बंद पड़े 75 ग्राउंड और मल्टीलेवल पार्किंग को 15 सितंबर को ठेकेदारों ने जबरदस्ती खोल दिया। पार्किंग एसोसिएशन ने बताया कि 1 जुलाई से हम महानगर पालिका से पार्किंग खोलने की मंजूरी देने की मांग कर रहे थे। इसके बावजूद हमारी बात नहीं सुनी जा रही थी। मनपा की ओर से मंजूरी न मिलने के कारण पार्किंग में काम करने वाले 900 कर्मचारियों के भूखे मरने की नौबत आ गई है। मजदूरों की कमाई का और कोई जरिया नहीं है। इसलिए हमने मजबूरन 15 सितंबर को पार्किंग खोलने का निर्णय लिया।

वहीं, महानगर पालिका सूरत शहर पार्किंग कॉन्ट्रेक्टर एसोसिएशन से पार्किंग पूरी तरह से बंद होने के बावजूद अप्रैल से अगस्त तक लाइसेंस की फीस मांग रही है। इसे लेकर एसोसिएशन की मुश्किल और बढ़ गई है। एसोसिएशन ने कहा कि पार्किंग शुरू होगी, तभी हम लाइसेंस की फीस दे पाएंगे। वहीं, महानगर पालिका का कहना है कि सभी जोन में अलग-अलग गाइडलाइन है। पार्किंग कॉन्ट्रैक्टर इस संदर्भ में संपर्क करेंगे तो उन्हें उचित गाइडलाइन जारी की जाएगी। बिना मंजूरी पार्किंग चालू करने पर महानगर पालिका कार्रवाई भी कर सकती है।

ये है समस्या: गांव गए कर्मचारी अब वापस आ रहे

सूरत पार्किंग कॉन्ट्रेक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष मोहम्मद तुफेल हकीक खान ने बताया कि शहर में ग्राउंड और मल्टीलेवल को मिलाकर कुल 75 पार्किंग हैं। इसे मनपा ने ठेके पर दिया है। लॉकडाउन में सभी पार्किंग को बंद कर दिया गया था। 22 मार्च से लेकर अब तक पार्किंग बंद पड़े हैं। लॉकडाउन में पार्किंग में काम करने वाले कर्मचारी अपने-अपने गांव चले गए। अब अनलॉक में ढील मिलने के बाद धीरे-धीरे वापस आ रहे हैं। हम कर्मचारियों को तनख्वाह भी नहीं चुका पा रहे हैं, क्योंकि पार्किंग बंद होने से कमाई पूरी तरह से बंद है। वहीं, महानगर पालिका बंद के दौरान की लाइसेंस फीस मांग भी मांग रही है। ऐसे ही हालात रहे तो परेशानी और बढ़ जाएगी। पिछले तीन महीने से महानगर पालिका से पार्किंग की मंजूरी देने की मांग कर रहे हैं, पर हमारी बात नहीं सुन रहे हैं।

एसोसिएशन: मनपा पार्किंग के लिए गाइडलाइन जारी करे, पालन करेंगे

सूरत पार्किंग कॉन्ट्रैक्टर एसोसिएशन ने बताया कि पिछले तीन महीने से मनपा के दफ्तर का चक्कर लगा रहे हैं। इसके बावजूद पार्किंग चालू करने की मंजूरी नहीं मिल रही है। 15 सितंबर को मजबूरन हमने पार्किंग चालू कर दी। महानगर पालिका पार्किंग के लिए भी कोरोना की गाइडलाइन जारी करे, ताकि हम उसका पूरी तरह से पालन करें और वाहन चालकों को भी सतर्क करें। हमने अपना और कर्मचारियों का पेट भरने के लिए बिना मंजूरी के ही पार्किंग चालू की है। महानगर पालिका जो भी गाइडलाइन जारी करेगी हम उसका कड़ाई से पालन करेंगे। अगर पार्किंग को दोबारा बंद कर दिया गया तो कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे।

मांग: लाइसेंस फीस में 75 प्रतिशत छूट दे मनपा

पार्किंग एसोसिएशन ने मनपा कमिश्नर से मांग की है कि बंद पार्किंग को चालू करने की आधिकारिक मंजूरी दी जाए। यहां काम करने वाले कर्मचारी बेकार बैठे हैं। इसके साथ ही लाइसेंस फीस में 75 प्रतिशत छूट दी जाए ताकि कॉन्ट्रैक्टर को फीस भरने में आसानी हो। हालांकि कोरोना महामारी की वजह से स्थिति अभी तक विकट बनी हुई है। मनपा को पार्किंग एसोसिएशन की मांग पर विचार करना चाहिए।

पार्किंग को लेकर शहर के अलग-अलग जोन की अलग गाइडलाइन है। पार्किंग कॉन्ट्रैक्टर हमसे संपर्क करेंगे तो जो भी उचित गाइडलाइन है उसे जारी करेंगे। पार्किंग कॉन्ट्रैक्टर इस संदर्भ में हमसे संर्पक करें। रही बात बिना मंजूरी के पार्किंग चालू करने की तो इसे पर चर्चा करेंगे।
-राजेश पंड्या, डिप्टी कमिश्नर, मनपा

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें