55 लाख की वूसली:चार माह में बिना टिकट के 5 हजार मामले आए

सूरत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पश्चिम रेलवे ने अप्रैल 2021 से जुलाई तक यानी चार महीनों के दौरान की गई टिकट जांच के दौरान बिना बुक किए गए सामान और बिना टिकट यात्रा के लगभग 2.34 लाख मामलों को पकड़ा गया। इनसे 12 करोड़ रुपए जुर्माना वसूला गया। इसमें पांच हजार मामले तो सूरत में ही पकड़े गए। इनसे 55 लाख रुपए जुर्माना वसूला गया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने बताया कि इस अवधि के दौरान आरक्षित टिकटों के हस्तांतरण के तीन मामलों को पकड़ा गया था, इसमें 4,580 रुपए की वसूली की गई। इसके अलावा 156 अनधिकृत फेरीवालों को भी पकड़ा गया, जिनमें से 21 पर आरोप लगाकर 5,370 रुपए वसूल किए गए।

135 व्यक्तियों पर मुकदमा चलाया गया और जुर्माना लगाकर 53,470 रुपए की राशि वसूल की गई। इसके अलावा 17 अप्रैल से 31 जुलाई तक की अवधि के दौरान बिना मास्क वाले यात्रियों के 6,769 मामलों का पता चला और उनसे जुर्माने के रूप में 13,54,665 रुपए की वसूली की गई।

खबरें और भी हैं...