पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • In Six Months, More Than 13 Thousand Cases Of Liquor Smuggling Were Registered, Estimated Annual Turnover Of Rs 500 Crore In The City

ये कैसी शराबबंदी:छह महीने में ही शराब तस्करी के 13 हजार से अधिक केस दर्ज हुए, शहर में सालाना 500 करोड़ रुपए के कारोबार का अनुमान

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस का दावा खोखला, रोजाना लाखों रुपए की शराब की तस्करी होती है और बेची जाती है

प्रदेश में शराबबंदी लागू हाेने के बावजूद पुलिस आए दिन दबिश देकर अवैध शराब के साथ तस्करों को गिरफ्तार करती है। शहर में अवैध शराब का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। पिछले छह महीने में शराब तस्करी के 13 हजार से अधिक केस अलग-अलग थानों में दर्ज हुए हैं।

जानकारों की मानें तो शहर में सालाना 500 करोड़ से अधिक का अवैध शराब का कारोबार होता है। शहर में रोजाना औसतन दो से तीन शराब तस्करी के मामले पकड़े जाते हैं। पुलिस विभाग भले ही अवैध शराब के कारोबार को नेस्तनाबूद करने का दावा करती है, पर जमीन पर हालात कुछ और ही हैं।

पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी शहर में रोजाना लाखों रुपए की अवैध शराब घुसाई और बेची जाती है। बुटलेगरों के खौफ से स्थानीय लोग भी पुलिस में शिकायत करने से डरते हैं।

शहर के कई इलाकों में धड़ल्ले से चल रहा है शराब का कारोबार

शहर के कई इलाकों में अवैध शराब का कारोबार खुलेआम चल रहा है। पुलिस कार्रवाई के नाम पर केवल खानापूर्ति ही करती है। शहर के पांडेसरा, उधना, लिंबायत, गोडादरा, डिंडोली, रांदेर और इच्छापोर में घरों में शराब के अड्‌डे चल रहे हैं। इन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। स्थानीय लोगों ने शराब के अड्‌डों पर हल्ला बोलकर पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने के लिए मजबूर किया है।

दमण से आती है सबसे अधिक अवैध शराब, पुलिस नाकाम

अवैध शराब मामले दमण से सीधे जुड़े हुए हैं। शहर में सबसे अधिक शराब यहीं से आती है। पुलिस इसे रोकने में नाकाम है। जानकारों की मानें तो अवैध शराब तस्करी में पुलिस और सीमांत लोगों की मिलीभगत से यह कारोबार तेजी से पनप रहा है। दमण से साइकिल, बाइक, कार और दूसरे साधनों से चोरी-छिपे शराब की तस्करी की जाती है।

औसतन दो से तीन लाख की शराब जब्त होती है

पुलिस ने पिछले 6 महीने में शराब तस्करी के 13288 केस दर्ज किए हैं। इस दौरान पुलिस ने करोड़ों रुपए की अवैध शराब जब्त की है। एसओजी से मिली जानकारी के अनुसार छापेमारी में औसतन दो से तीन लाख रुपए की अवैध शराब जब्त होती है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कार्रवाई में जितनी शराब जब्त होती है उससे दस गुना अधिक मात्रा में अवैध शराब का कारोबार शहर में हाे रहा है।

खबरें और भी हैं...