• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • In Surat, Fake Diamonds Were Being Ordered From Hong Kong In The Name Of Real Diamonds, Fear Of Manipulation Of Crores Of Rupees, Three People Arrested

मनी लॉन्ड्रिंग:सूरत में हांगकांग से असली हीरे के नाम पर नकली हीरे मंगा रहे थे, करोड़ों रुपए के हेरफेर की आशंका, डायरेक्टर समेत तीन गिरफ्तार

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनी लॉन्ड्रिंग के तहत जांच शुरू। - Dainik Bhaskar
मनी लॉन्ड्रिंग के तहत जांच शुरू।

डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवन्यू इंटेलिजेंस ने सूरत के सचिन स्थित स्पेशल इकोनॉमिक जोन (सेज) की एक डायमंड यूनिट में असली हीरे इंपोर्ट करने की आड़ में हांगकांग से नकली हीरे मंगाकर करोड़ों रुपए के हेरफेर के मामले का खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में डायरेक्टर समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। अब मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मामले की जांच कर रही है।

दरअसल, कंपनी के एक कर्मचारी को शुक्रवार रात 500 नग कट और पॉलिश्ड डायमंड के साथ गिरफ्तार किया था। जांच में पता चला कि वह इन असली हीरे को स्थानीय बाजार में बेचने ले जा रहा था। सेज के नियम के अनुसार जो चीज सेज में इंपोर्ट की जाती है उस पर प्रोसेस कर वापस विदेश भेजनी होती है, उसे स्थानीय बाजार में नहीं बेच सकते। पूछताछ के बाद दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसमें से एक कंपनी का डायरेक्ट विकास विजयचंद चोपड़ा बताया जा रहा है।

अधिकारियों ने जब इनसे पूछताछ की तो बड़े पैमाने पर हेरफेर का पता चला। दरअसल, ये लोग हांगकांग से कट और पॉलिश्ड हीरे प्रोसेस करने के नाम पर नकली हीरे आयात कर रहे थे। इसमें से सिर्फ 5-10 प्रतिशत ही असली हीरे असली होते थे। नकली हीरे को प्रोसेस कर विदेश में भेज देते थे। इस तरह से पिछले कुछ सालों में कंपनी के संचालकों ने 1016 करोड़ रुपए के हीरे आयात किए जबकि 675 करोेड़ रुपए का निर्यात किया। ये कम कीमत के माल को ज्यादा कीमत का बताकर करोड़ों रुपयों को हेरफेर किया गया।

खबरें और भी हैं...