पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Income Tax Department Caught Tax Evasion Of More Than 200 Crores In 8 Hours With More Than 1000 User IDs And Passwords Found From The Server

टैक्स चोरी:सर्वर से मिले 1000 से अधिक यूजर आईडी और पासवर्ड से आयकर विभाग ने 8 घंटे में पकड़ी 200 करोड़ से अधिक की टैक्स चोरी

सूरत11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
500 मेल की जानकारी खोज निकाली, 300 मशीनों के सौदे और हीरों के सौदों की जानकारी मिली। - Dainik Bhaskar
500 मेल की जानकारी खोज निकाली, 300 मशीनों के सौदे और हीरों के सौदों की जानकारी मिली।

सूरत आयकर विभाग के अधिकारियों ने एक कंपनी के सर्वर से ग्राहकों के डेटा खंगालकर आठ घंटे में ही 200 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी ढूंढ निकाली। कंपनी के संचालकों ने अधिकारियों को जानकारी देने से इनकार कर दिया था। बीते दिनों आयकर विभाग ने वराछा के एक बड़े डायमंड कारोबारी के घर पर छापा मारा था।

विभाग ने कंपनी के सभी भागीदारों के घर और यूनिट पर छापा मारा था। यहां से विभाग को बड़े पैमाने पर डायमंड से जुड़ी मशीनें, रफ डायमंड, कट और पॉलिश्ड डायमंड मिले थे। कंपनी में एक साथ 300 से अधिक मशीनें और बड़े पैमाने पर हीरे मिले थे। इसके अलावा बड़े पैमाने पर बेनामी आय-व्यय के दस्तावेज मिले थे।

आयकर विभाग के लोग पहुंचे तो कंपनी के स्टाफ ने नष्ट कर दिए थे सभी डॉक्यूमेंट्स

आयकर विभाग के अधिकारियों के डायमंड प्रिमाइज में पहुंचने की जानकारी जैसे ही कंपनी के स्टाफ को हुई, उन्होंने अकाउंट बुक और कम्प्यूटर में स्टोर की गई जानकारी नष्ट कर दी। हालांकि विभाग के अधिकारियों को कई डॉक्यूमेंट और खरीद-बिक्री के सबूत मिल गए थे। कंप्यूटर की जानकारी डिलीट कर देने के कारण अधिकारियों को कर चोरी ढूंढने में दिक्कत आ रही थी।

कंपनी ने बड़े पैमाने पर मशीनें बेची थीं और डायमंड भी लिए थे। यह सभी जानकारी सर्वर में थी। आयकर विभाग के बार-बार कहने पर भी कंपनी संचालक कुछ भी बताने को तैयार नहीं थे। अंत में अधिकारी सर्वर की जानकारी जुटाने में सफल रहा। उसके बाद विभाग ने आईटी के जानकारों की मदद से इस पर काम शुरू किया।

आईटी एक्सपर्ट्स की सहायता से 500 मेल खोले गए

सर्वर में ग्राहकों के नाम और पासवर्ड थे। ऐसे 1000 से अधिक यूजर आईडी और पासवर्ड यहां पर स्टोर थे। शनिवार देर रात तक अधिकारियों ने एक-एक मेल को कम्प्यूटर में स्टोर पासवर्ड के माध्यम से खोलने का प्रयास किया। विभाग को लगभग 500 मेल आईडी खोलने में सफलता मिली। इस तरह से विभाग ने लगभग 300 मशीनों के सौदे की जानकारी ढूंढ निकाली। इस तरह से विभाग ने 200 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी ढूंढ निकाली।

पहले भी बैंककर्मी बनकर की गई थी लाखों की रिकवरी

कुछ वर्षों पहले भी आयकर विभाग के अधिकारी एक करदाता को लाखों रुपए की रिकवरी के लिए ढूंढ रहे थे। उसके परिजन यह कहकर नोटिस लेने से इनकार कर रहे थे कि जिसका नोटिस देने आए उनका घर यह नहीं है। तब आयकर अधिकारी बैंक अधिकारी बन वहां पहुंचे और कहा कि करदाता के नाम की एफडी है। यह सुनकर करदाता के परिजन मान गए कि वह घर उसी का है। इसके बाद डिपार्टमेंट ने नोटिस पकड़ा दिया।

खबरें और भी हैं...