पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उत्तरायण:पतंग उड़ानी है ताे एसओपी माननी हाेगी, नियम टूटे तो सोसाइटी जिम्मेदार

अहमदाबाद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • हाईकोर्ट ने पतंग खरीदने-बेचने पर प्रतिबंध लगाने की मांग खारिज करते हुए कहा...
  • इस बार सशर्त उत्तरायण- पतंगबाजी में न डीजे बजा सकेंगे न दोस्तों को बुला सकेंगे

उत्तरायण यानी मकर संक्रांति पर पतंगबाजी पर प्रतिबंध की मांग वाली जनहित याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है। सरकार की ओर से पेश 13 मुद्दों की एसओपी में से एक को छोड़कर शेष सभी मुद्दों को स्वीकार करते हुए हाईकोर्ट ने पालन कराने का आदेश दिया है।

एक बिल्डिंग में 100 से अधिक फ्लैट होने पर छत पर भीड़ जमा होने और एसओपी के उल्लंघन होने पर रेजिडेंस वेल्फेयर एसोसिएशन यानी सोसायटी के चेयरमैन और सचिव जिम्मेदार होंगे। इन पर पुलिस कार्रवाई होगी।

कोर्ट ने सरकार द्वारा तैयार 13 मुद्दों की एसओपी में प्रस्तावित संशोधन करके सर्कुलर जारी करने का आदेश दिया है। चीफ जस्टिस विक्रमनाथ की खंडपीठ ने कहा कि हम किसी का विरोध नहीं करते, लेकिन लोगोें के कल्याण के लिए सख्त कदम उठाने होंगे।

सरकार की एसओपी प्रशंसनीय, पर प्रैक्टिकल नहीं : वकील

नर्सिंग शाह ने अपनी जनहित याचिका में कहा कि दीवाली के बाद कोरोना के केस तेजी से बढ़े थे। इसी प्रकार उत्तरायण में भी कोरोना न फैले, इसलिए त्योहारों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए। एडवोकेट निमिष कापड़िया ने अपनी दलील में कहा कि सरकार के प्रतिबंध से भीड़ इकट्‌ठा होने पर कोई अंकुश नहीं लगेगा।

पुलिस लोगों को छत पर चढ़ने से नहीं रोक सकेगी। कुछ लोग एक साल अपना त्याेहार नहीं मनाएं तो अधिकांश लोग संक्रमण से बच सकते हैं। सरकार की एसओपी प्रशंसनीय है, पर प्रैक्टिकल अमल संभव नहीं है।

1.25 लाख परिवार इस कारोबार से जुड़े हुए हैं

पतंग उत्पादकों की ओर से वकील खेमचंद कोष्ठी ने दलील दी कि सालभर में एक बार उत्तरायण का त्योहार आता है। सरकार दावा कर रही है कि पिछले एक महीने से कोरोना के केस कम हो गए हैं, तो फिर पतंग खरीदने-बेचने पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते। पतंग कारोबार में 1.25 लाख परिवार जुड़े हुए हैं। पिछले साल पतंग उद्योग का 625 करोड़ का टर्नअोवर था। प्रतिबंध लगाने से लाखों लोग बेरोजगार हो जाएंगे।

यह है उत्तरायण की एसओपी

  • छत पर एक बार में पांच से ज्यादा लोग इकट्‌ठा नहीं हो सकेंगे।
  • पतंगबाजी के दौरान बिना मास्क लगाए छत पर नहीं जा सकेंगे।
  • फ्लैट या बंगले पर इस बार रिश्तेदारों को नहीं बुला सकेंगे।
  • छत पर सैनिटाइजर उपलब्ध रखना अनिवार्य होगा।
  • इस बार लाउड स्पीकर या डीजे नहीं बजाया जा सकेगा।
  • कोमॉर्बिड या 60 साल से अधिक उम्र के लोग छत पर न जाएं, इसका ध्यान रखना होगा।
  • अहमदाबाद के कालूपुर, रायपुर के पतंग बाजार में भी सोशल डिस्टेंस का कड़ाई से पालन होगा
  • पुलिस बंदोबस्त और सख्त होगा, नियम का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई होगी।
  • चीनी मांझा और तुक्कल पर इस बार भी प्रतिबंध लागू रहेगा।
  • सूरत सहित चार शहरों में नाइट कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करना होगा। 11 से 13 जनवरी तक पतंग बाजार में भीड़ नहीं जुटेगी।
  • संवेदनशील इलाकों में पुलिस बंदोबस्त और पेट्रोलिंग होगी।
  • सार्वजनिक रास्तों पर पतंग उड़ाने-पकड़ने पर प्रतिबंध।
  • एसओपी के उल्लंघन पर आरडब्ल्यूए यानी सोयायटी के चेयरमैन व सचिव जिम्मेदार होंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser