• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Labor Widow Forgot Rs 2 Lakh In Auto, Auto Driver Returned It; The Woman Had Withdrawn Money To Build A House

ऑटोचालक की ईमानदारी:श्रमिक विधवा ऑटो में 2 लाख रुपए भूल गई थी, ऑटोचालक ने वापस लौटाए; महिला ने मकान बनवाने निकाले थे पैसे

सूरत4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मधुबेन ने ऑटोचालक को आशीर्वाद दिया। - Dainik Bhaskar
मधुबेन ने ऑटोचालक को आशीर्वाद दिया।

गुजरात के सूरत शहर में एक ऑटोचालक की ईमानदारी ने सबका दिल जीत लिया। दरअसल एक श्रमिक विधवा ऑटो में बैठकर घर जा रही थी और इसी दौरान 2 लाख रुपए से भरा पर्स ऑटो में ही भूल गई। वहीं, जब ऑटोचालक ने पर्स देखा तो तुरंत खटोदरा पुलिस थाने पहुंचकर पुलिस को इन रुपयों के बारे में बताया। वहीं, कुछ देर बाद ही महिला भी शिकायत दर्ज करवाने पुलिस थाने पहुंची और उन्हें उनके पैसे मिल गए। खटोदरा पुलिस थाने ने भी ऑटोचालक की ईमानदारी की प्रशंसा की है।

बैंक से दो लाख रुपए निकालने के बाद ऑटो में बैठकर उधना दरवाजा आई थी।
बैंक से दो लाख रुपए निकालने के बाद ऑटो में बैठकर उधना दरवाजा आई थी।

नवागाम-डिंडोली के महादेव नगर-2 में रहने वाली मधुबेन भीखूभाई पटेल (65 वर्ष) विधवा और पेंशन पर जीवन निवार्ह करती हैं। मधुबेन अपना घर बनवा रही हैं। उन्हें रुपए की जरूरत थी तो डिंडोली से भटार में रूपाली नहर के पास स्थित बैंक ऑफ बडौडा में रुपए निकालने गई थी। बैंक से दो लाख रुपए निकालने के बाद ऑटो में बैठकर उधना दरवाजा आई थी। वहां सब्जी खरीदकर दूसरे ऑटो में घर जा रही थी। इसी बीच उन्हें याद आया कि रुपए वाली बैग तो ऑटो में भूल गई हैं। मधुबेन खटोदरा थाने में जाकर पूरी कहानी बताई। इंस्पेक्टर टीवी पटेल की सूचना पर सब इंस्पेक्टर आरएस पटेल ने दो टीमें बनाकर सीसीटीवी कैमरे की जांच की। इस दौरान उन्हें ऑटो का नंबर मिला।

नंबर के आधार पर ऑटोचालक के घर पहुंची खटोदरा पुलिस
खटोदरा पुलिस ने नंबर के आधार पर जांच की तो पता चला कि ऑटोचालक भटार, इंदिरानगर में रहता है। उसका नाम अशोक सुदाम खरत (49) है। पुलिस तुरंत अशोक के घर पहुंच गई। उसके दरवाजे पर ताला लटक रहा था। पुलिस के पूछताछ करने से पहले ही अशोक खटोदरा थाने पहुंच गया और बोला कि- एक महिला ऑटो में 2 लाख रुपए भूल गई है। उसकी बातें सुनकर पुलिसकर्मी भी अचंभित हो गए। मधुबेन ने ऑटोचालक को आशीर्वाद दिया।

खबरें और भी हैं...