पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Manpa Asks For Data On Vaccine And Test Put In Market, Traders Say It Is Not Possible To Give Report

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से परेशानी:मनपा ने मार्केट में लगाई गई वैक्सीन व टेस्ट का डेटा मांगा, व्यापारी बोले- रिपोर्ट दे पाना संभव नहीं

सूरत9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मार्केट के गेट पर कर्मचारियों की जांच करते मनपा की टीम - Dainik Bhaskar
मार्केट के गेट पर कर्मचारियों की जांच करते मनपा की टीम
  • वैक्सीन और कोरोना जांच को लेकर व्यापारी और मनपा आमने-सामने

कारीगरों को परीक्षण के लिए कतार में लगाने के बाद निगम ने अब व्यापारियों पर एक नई जिम्मेदारी डाली है। कितने व्यापारियों और कारीगरों को मार्केट में टीका लगाया गया है या कोरोना के लिए परीक्षण किया गया है? इस पर डाटा के लिए मार्केट प्रबंधन से मांग शुरू की गई है।

कपड़ा बाजार, हीरा बाजार, औद्योगिक क्षेत्र, मॉल, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में प्रवेश के लिए 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण और युवा लोगों के लिए कोरोना का परीक्षण सोमवार से अनिवार्य कर दिया गया है। जिसके कारण पिछले दिनों से बाजार क्षेत्र में शुरू हुए कोरोना टेस्टिंग बूथ पर कारीगरों को घंटों तक लंबी लाइन में खड़ा होना पड़ता है।

यह बाजार क्षेत्र में कटिंग पैकिंग और वितरण कार्यों को बहुत प्रभावित करता है। नगरपालिका की विभिन्न टीमों द्वारा प्रत्येक बाजार के गेट पर उपस्थित होकर सभी मार्केट में प्रवेश करते हैं वैक्सीन या परीक्षण का प्रमाण पत्र जारी किया जाता है। इसकी जांच के बाद ही प्रवेश दिया जाता है। जिसके कारण कई कारीगरों ने मार्केट में अपना प्रवेश कम कर दिया है।

सभी मार्केट में जांच नही की जाती, लेकिन औचक ही किसी भी मार्केट में मनपा और पुलिस कर्मी पहुंच जाते है। व्यापारियों के अनुसार, न केवल कारीगरों बल्कि डाटा एंट्री करने वाले, बिल बनाने वाले और मार्केट के सेल्स टीम के कई कर्मचारियों ने मार्केट में अपनी उपस्थिति कम कर दी है।

जिससे काम असंभव हो जाता है। इसके अलावा मार्केट में कितने व्यापारियों और कारीगरों को अब मार्केट प्रबंधन द्वारा टीकाकरण या परीक्षण किया गया है। इसका डाटा मांगना शुरू कर दिया है। जिससे कपड़ा बाजार का कामकाज बाधित हुआ है।

कपड़ा मार्केट में 13 टीमों ने किया 1643 लोगों का रेपिड टेस्ट

टेक्सटाइल मार्केट क्षेत्र में पिछले दो दिन में 3045 टेस्ट किए गए। बुधवार को लिंबायत जोन की 7 टीम ने 767 टेस्ट किए। जिनमे 20 पॉजिटिव पाए गए। सेंट्रल जोन में 6 टीम द्वारा 876 रेपिड टेस्ट किए गए, जिनमें 11 पॉजिटिव पाए गए।

एक दिन पहले मंगलवार को लिम्बायत जोन की 7 टीम ने 752 टेस्ट किए थे। जिनमे 11 पॉजिटिव पाए गए। सेंट्रल जोन में 6 टीम द्वारा 650 रेपिड टेस्ट किए गए, जिनमें 3 पॉजिटिव पाए गए। अब 2.10 लाख लोगों में से व्यापारी और लेबर की संख्या करीब 1 लाख 70 हजार है। मनपा के वर्तमान टेस्ट के मुताबिक एक सप्ताह में 9 से 10 हजार ही टेस्ट कर पाएंगे।

मनपा की टीम सुबह 10 बजे मार्केट पहुंच जाती है

फोस्टा के कार्यकारी निदेशक रंगनाथ शारडा ने कहा कि नगरपालिका की टीम सुबह 10 बजे से बाजार के प्रवेश द्वार पर आती है और टीके या परीक्षण के प्रमाण पत्र की जांच करती है और फिर एंट्री देती है। अब िकसने टीका लगाया गया है या परीक्षण किया गया है ऐसे व्यापारी-कारीगर के डाटा के लिए मार्केट प्रबंधन से मांग की गई है। यह मार्केट प्रबंधन के लिए असंभव है।

मांग: मार्केट में 21 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन दें

वीपीएस के संयोजक संजय जगनानी ने मनपा आयुक्त से मांग करते हुए कहा है कि मनपा के कर्मचारियों द्वारा मार्केट के गेट पर टेस्ट का निगेटिव रिपोर्ट या वैक्सीन रिपोर्ट देखकर ही रिंग रोड के सभी टेक्सटाइल मार्केट में प्रवेश दिया जा रहा है। इससे कर्मचारियों व व्यापारियों में असंतोष का वातावरण बन रहा है।

चेकिंग से पहले आरटी पीसीआर रिपोर्ट निकालने व वैक्सीन लगाने की रिंग रोड के टेक्सटाइल मार्केटो में जगह-जगह पर्याप्त व्यवस्था करनी चाहिए। रिंग रोड टेक्सटाइल मार्केट एरिया में काम करने वाले 21 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी व व्यापारी सभी लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लगाने की व्यवस्था करनी चाहिए। सभी लोग वैक्सीन लगाने के लिए तत्पर है।

परेशानी: कर्फ्यू के कारण कपड़ा मिलों और मार्केट के समय में बदलाव

बुधवार रात 8 बजे से शुरू होने वाले कर्फ्यू के कारण मिल और मार्केट के समय में बदलाव किया गया है। कपड़ा मार्केट का समय सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक कर दिया गया है। जबकि प्रोसेस मिलों को सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक दो शिफ्ट में कर दिया गया है।

इस संबंध में सचिन वीवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष महेंद्र रामोलिया का कहना है कि मिलों में 9 से 7 की शिफ्ट थी, कर्फ्यू के कारण 3 से 7 की दो शिफ्ट बनाई गई हैं। इसके साथ ही मिल मालिकों ने कारीगरों के लिए खाद्यान्न की भी व्यवस्था की है ताकि कारीगर पलायन न करें। कोरोना को लेकर मौजूदा स्थिति से व्यापािरयों और कर्मचारियों में काफी संशय के हालात बन गए है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें