पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मार्केट में दो राय:150 से अधिक कपड़ा मार्केट अभी चालू व्यापारी बोले- बंद से कोरोना नहीं जाएगा

सूरत10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 9 कपड़ा मार्केट की 6000 से ज्यादा दुकानें बंद रखने के निर्णय पर सवाल
  • रघुकुल, जेजे, हरिओम, आदर्श, एनटीएम, अशोका टाॅवर, राधे, शंकर और साई आशाराम मार्केट ने बंद का निर्णय लिया

कोरोना संक्रमण के कारण कपड़ा व्यापारियों के बाद अब मार्केट एसोसिएशन भी सेल्फ लाॅकडाउन कर रहे हैं। एसटीएम के बाद 9 अन्य कपड़ा मार्केट ने रविवार, 19 जुलाई तक स्वैच्छिक बंद करने का निर्णय लिया है। इनमें 6000 से ज्यादा दुकानें हैं। हर मार्केट अलग-अलग दिन से बंद करेंगे। मंगलवार को रघुकुल मार्केट, जेजे मार्केट, हरिओम मार्केट, आदर्श मार्केट, एनटीएम मार्केट, अशोका टाॅवर, राधे मार्केट और साई आशाराम मार्केट ने रविवार तक स्वैच्छिक बंद करने का निर्णय लिया।

हालांकि अब भी 150 से अधिक कपड़ा मार्केट चालू हैं। एसजीटीटीए, वीपीएस, टेक्सटाइल युवा ब्रिगेड और कुछ प्रमुख व्यापारियों का मानना है कि जिन्हें स्वैच्छिक दुकान बंद करनी हो उनके निर्णय का स्वागत है, लेकिन एसोसिएशन बंद करने का निर्णय नहीं लें। टेक्सटाइल और डायमंड उद्योग में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के माहौल को देखते हुए मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने टेक्सटाइल इंडस्ट्री के कारोबार को लेकर प्रमुख लोगों से मीटिंग कर निर्णय लेने की जिम्मेदारी सीआर पाटिल को दी थी। फोस्टा, एसजीटीटीए, वीपीएस और प्रमुख व्यापारियों ने स्पष्ट कहा था कि कपड़ा मार्केट बंद करना कोई उपाय नहीं है। सभी को खुद से जागरूक होकर स्टाफ, मजदूर और बाहर से आने वाले लोगों को भी जागरूक करना है। कपड़ा मार्केट को चालू रखना व्यापारियों के लिए भी मुश्किल होगा। नए नियमों का पालन करें, लेकिन मार्केट बंद हुआ तो करोड़ों रुपए का कारोबार चौपट हो जाएगा। बाहर की मंडी से आने वाला पेमेंट भी रुक जाएगा।

एसजीटीटीए: मार्केट को बंद करना समस्या का हल नहीं

एसजीटीटीए के सांवरमल बुधिया ने कहा कि कपड़ा मार्केट को बंद करना कोरोना की समस्या का हल नहीं हो सकता है, सावधानी हल है। दो गज की दूरी बनाए रखें, मास्क लगाएं। यह कोरोना वायरस लंबा चलेगा। कुछ समय का तो है नहीं, इसलिए सरकार के दिशानिर्देशों का पालन करना है। कुछ मार्केट ने हड़बड़ाहट में बंद का निर्णय लिया है। इससे माहौल खराब होगा। जिन्हें स्वेच्छा से अपनी दुकानें बंद रखनी हैं वे रख सकते हैं, लेकिन मार्केट बंद नहीं करें।

वीपीएस: एसोसिएशन को मार्केट नहीं बंद करना चाहिए

वीपीएस के संजय जगनानी ने कहा कि सभी मार्केटों के प्रमुख, सेक्रेटरी व कार्यकारणी को अपने विवेक से या मनपा की गाइडलाइन के मुताबिक व्यापारियों के हित में मार्केट खोलने, बंद करने का निर्णय व्यापारियों से सलाह करके लेना चाहिए। किसी भी अफवाह से मार्केट को बंद की घोषणा नहीं करनी चाहिए। जिन व्यापारियों के पास कम व्यापार है व कोरोना से डर लगता है उनको स्वयं से अपनी दुकान बंद रखनी चाहिए। कोरोना से सावधान रहना है, डरना नहीं है।

युवा ब्रिगेड: मार्केट बंद हुए तो बढ़ेगी बेरोजगारी

टेक्सटाइल युवा ब्रिगेड के ललित शर्मा ने कहा कि कपड़ा मार्केट में जैसे-तैसे कर गाड़ी पटरी पर आई है। ऐसे में मार्केट बंद किए तो फिर माहौल खराब होगा, बेरोजगारी बढ़ेगी। 4-5 दिन मार्केट बंद करने के बाद यह आगे भी बढ़ सकता है। व्यापारियों को दुकानें बंद करनी हो तो वह कर सकते हैं, लेकिन जिनके पास काम है वे अपना काम करें।

दिशानिर्देश का सख्ती से पालन करें, नहीं सख्त कार्रवाई की जाएगी: मनपा आयुक्त

मनपा कमिश्नर बंछानिधि पाणी ने शहर में कोरोना के प्रसार को रोकने और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है। साथ ही लोगों को कोविड 19 की गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने को कहा है। आयुक्त ने कहा कि मास्क पहने, दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ खाना खाने के लिए इकट्ठा न हों। शहर के सभी क्षेत्र जहां संक्रमण की दर बहुत अधिक है जैसे वराछा, सरथाना, पुणे, पूनागाम, योगीचाैक, करगिल चौक, करंज, बॉम्बे बाजार क्षेत्र, सिंगणापुर, अमरोली, छापराभाटा, दाभोली, पाल, अडाजन, पालनपुर, पटिया, सलाबियापुरा, भागल, भागलगाम, चाैकबाजार, सोनिपालिया, सैयदपुरा, गोपीपुरा, नानपुरा, डिंडोली, उधना, पांडेसरा और भटनेर क्षेत्र के निवासियों को बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है। अगर संभव हो तो घर में रहना अनिवार्य है, ताकि लोग संक्रमण का शिकार न हों।

अधिकतर मार्केट खुले जिनके पास काम नहीं वे दुकान बंद करें

सिर्फ कुछ एसोसिएशन ने मार्केट बंद का निर्णय लिया है। अधिकतर कपड़ा मार्केट चालू हैं। जिनके पास काम नहीं है वे मार्केट में भीड़ न करें। अगर मार्केट बंद किया तो कब तक बंद रखेंगे, कोरोना संक्रमण का अभी तो अंत नहीं है। बंद करने से बेरोजगारी बढ़ेगी। बाहर से थोड़ा-बहुत आ रहा पेमेंट भी बंद हो जाएगा। -कैलाश हाकिम, व्यापारी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें