पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • In Jamnagar, Gujarat, The Mother Jumped Herself By Throwing Three Innocent Children Into The Well, The Death Of All Three Children, The Mother's Life Was Saved.

जननी ने ही जान ली:गुजरात के जामनगर में मां ने तीन मासूमों को कुएं में फेंककर खुद भी लगाई छलांग, तीनों बच्चों की मौत, मां की जान बच गई

जामनगर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बच्चों में 4 साल, ढाई साल की दो बेटियां और आठ महीने का बेटा शामिल है। - Dainik Bhaskar
बच्चों में 4 साल, ढाई साल की दो बेटियां और आठ महीने का बेटा शामिल है।

जामनगर जिले के मोरारदास खंभालिया गांव से एक दर्दनाक मामला सामने आया है। यहां एक मां ने अपने तीन मासूम बच्चों की कुएं में फेंककर हत्या करने के बाद आत्महत्या की कोशिश की। पानी में डूबकर तीनों बच्चों की तो मौत हो गई, लेकिन चीख-पुकार सुनकर मौके पर पहुंचे गांववालों ने मां की जान बचा ली।

बच्चों के शवों को कुएं से बाहर निकालती फायर ब्रिगेड की टीम।
बच्चों के शवों को कुएं से बाहर निकालती फायर ब्रिगेड की टीम।

तीन महीने से पति की खबर नहीं
मिली जानकारी के अनुसार गांव में रहने वाली मेसुडीबेन का पति नरेश तीन महीनों से नौकरी के लिए किसी और शहर चला गया है, जो अब तक नहीं लौटा और न ही उससे संपर्क हो सका है। मेसुडीबेन सास-ससुर के साथ रहकर खेतों में मजदूरी कर बच्चों का पेट भर रही थीं।

पति के गायब होने के चलते मेसुडीबेन के लिए बच्चों का लालन-पालन मुश्किल हो रहा था।
पति के गायब होने के चलते मेसुडीबेन के लिए बच्चों का लालन-पालन मुश्किल हो रहा था।

आर्थिक कारणों से उठाया कदम
हालांकि, अब तक इसका खुलासा नहीं हो सका है कि मेसुडीबेन ने यह कदम क्यों उठाया। लेकिन गांव वालों से मिली जानकारी के अनुसार पति के गायब होने के चलते मेसुडीबेन के लिए बच्चों का लालन-पालन मुश्किल हो रहा था। शायद इसी से तंग आकर उन्होंने यह कदम उठाया। फिलहाल मेसुडीबेन अस्पताल में भर्ती है। पुलिस उनके बयान लेने के लिए अस्पताल में ही मौजूद है।

तीनों बच्चों की उम्र पांच साल से कम
मेसुडीबेन के तीन बच्चों में बेटी रिया (4 साल), बेटी माधुरी (ढाई साल) और बेटा कनेश (आठ महीने) शामिल है।

खबरें और भी हैं...