• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • 63 Cm Water Increase In Narmada Dam In 24 Hours, 32,654 Cusec Water Inflow From Upper Area

गुजरात के लिए राहत देने वाली खबर:नर्मदा डैम में 24 घंटे में ही 63 सेमी पानी की बढ़ोतरी, ऊपरी क्षेत्र से 32,654 क्यूसेक पानी की आवक

केवडिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लगातार बारिश के चलते डैम का जलस्तर 119.2 मीटर तक पहुंचा। - Dainik Bhaskar
लगातार बारिश के चलते डैम का जलस्तर 119.2 मीटर तक पहुंचा।

सरदार सरोवर नर्मदा डैम के जलस्तर में पिछले 24 घंटे में 63 सेमी की बढ़ोत्तरी हुई है। ऊपरी क्षेत्र से वर्तमान में 32,654 क्यूसेक पानी की आवक हो रही है। ऊपरी क्षेत्र में अच्छी बरसात होने के कारण नर्मदा डैम में नया पानी बढ़ने लगा है। वर्तमान में नर्मदा डैम का जलस्तर बढ़कर 119.02 मीटर तक पहुंच गया है। पानी का स्टोरेज करने के लिए अब पावर हाऊस के सभी यूनिट बंद किए गए है।

राज्य में पीने के पानी के लिए भी लिंक तालाब भर रहे हैं। इतना ही नहीं नर्मदा कैनाल में पानी छोड़ने का काम भी अब पूरी तरह बंद कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर रिवरबेड पावरहाऊस शुरू कर वियरडैम भी भरे जा रहे है। ऐसे में अब नर्मदा निगम ने पानी की जावक बिल्कूल कम कर जीरो कर दी है, जिससे जलस्तर में बढ़ोत्तरी होने लगी है। राज्य में इस साल मानसून ठीक नहीं रहा है। बीते साल इस समय तक नर्मदा डैम पूरी तरह पानी से भर गया था, जबकि इस साल नर्मदा डैम का जलस्तर अब 119.02 मीटर तक ही भरा हुआ है। वहीं नर्मदा डैम में अब 4775.17 एमसीएम लाइव स्टोरेज उपलब्ध है।

पानी के स्टोरेज के लिए पावर हाऊस की सभी यूनिट बंद कर दी गईं हैं।
पानी के स्टोरेज के लिए पावर हाऊस की सभी यूनिट बंद कर दी गईं हैं।

दहेगाम में 3 और माणसा में ढाई इंच बारिश
गांधीनगर जिले में गुरुवार सुबह से ही बरसात का माहौल रहा। दोपहर 4 बजे तक दहेगाम में 3 इंच बारिश तथा माणसा में ढाई इंच बारिश दर्ज की गई है। वहीं कलोल में भी एक इंच बारिश दर्ज करने के बाद जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। शहर में आधा इंच बरसात हुई है। देर रात तक जिले में बरसात का सिलसिला अनवरत जारी था जिससे किसानों में खुशी की लहर देखने को मिल रही है। जानकारी के अनुसार गांधीनगर शहर में सुबह से ही बरसात का माहौल देखने को मिला। अनवरत बारिश के चलते दोपहर 1 बजे तक धीमी तथा इसके बाद धमाकेदार बारिश शुरू हुई। जिससे यहां के नदी-नाले पानी से तरबतर हो गए।

महेसाणा में भारी बरसात, ऊंझा में पानी भरने पर वाहन-व्यवहार ठप हुआ
जिले में सुबह से जगह-जगह बरसाती पानी भर जाने के बाद आवागमन ठप हो गया। वहीं दूसरी ओर इस बरसात के चलते किसानों में खुशी की लहर भी देखने को मिल रही है। जिले के ऊंझा, वडनगर और विसनगर सहित अन्य विस्तारों में बरसात के चलते जगह-जगह जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई।

बीते साल इस समय तक नर्मदा डैम पूरी तरह पानी से भर गया था।
बीते साल इस समय तक नर्मदा डैम पूरी तरह पानी से भर गया था।

भारी बरसात के कारण नीचले इलाकों में पानी भर गया वहीं ऊंझा अंडरब्रिज में भी पानी भर जाने के बाद आवागमन पूरी तरह ठप हो गया। गुजरात में मौसम विभाग द्वारा उत्तर गुजरात में भारी तथा अति बरसात की चेतावनी दी गई थी। बनासकांठा, पाटण, महेसाणा सहित अन्य विस्तारों में अति भारी बरसात की चेतावनी दी गई थी, जिसके चलते जिले में तूफानी बारिश हो रही है।

अगले तीन दिनों भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग ने राज्य में तीन दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बनासकांठा जिले के कुछ क्षेत्रों में 2.50 इंच से लेकर 8 इंच तक भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। वहीं, मेहसाणा, पाटन, साबरकांठा और अरावली जिले के कुछ इलाकों में 2.50 इंच से लेकर 4.50 इंच तक भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है।

खबरें और भी हैं...