• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • On the first day only 25% of the market opened, if the buyers did not come, then the merchants closed the shops in 5 hours after worshiping.

होम क्वॉरेंटाइन में कपड़ा बाजार / पहले दिन 25% मार्केट ही खुले, खरीदार नहीं आए तो पूजा-पाठ कर 5 घंटे में दुकानें बंद कर चले गए व्यापारी

On the first day only 25% of the market opened, if the buyers did not come, then the merchants closed the shops in 5 hours after worshiping.
X
On the first day only 25% of the market opened, if the buyers did not come, then the merchants closed the shops in 5 hours after worshiping.

  • अनलॉक-1 का पहला दिन: लॉकडाउन खुलने से शहर में बढ़ी चहल-पहल, टेक्सटाइल का कारोबार हुआ शुरू
  • बड़ा सवाल: बाहरी राज्यों-जिलों से आने वाले व्यापारियों को 14 दिन क्वाॅरेंटाइन करेंगे तो कैसे चलेगा कपड़ा कारोबार

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 07:28 AM IST

सूरत. अनलाॅक-1 के पहले दिन सोमवार को रिंगरोड के 164 कपड़ा मार्केट शुरू हो गए। शहर में कोरोना के मामले आने और उसके बाद लाॅकडाउन लगने के बाद लगभग 73 दिन तक कपड़ा मार्केट बंद रहे। इतने समय के बाद फिर से कपड़ा मार्केट शुरू होने पर व्यापारियों ने राहत महसूस की। पहले दिन खरीदार नहीं अाने से 25 प्रतिशत दुकानें ही खुलीं। पहले दिन पूजा-पाठ करके पांच घंटे में ही व्यापारी दुकानें बंदकर चले गए।

सोमवार सुबह 9 बजे से ही कपड़ा मार्केट खुलने लगे थे। हालांकि पहले दिन ऑड-ईवन फाॅर्मूला, स्टाफ है या नहीं, काैन सा व्यापारी क्लस्टर क्षेत्र में है, इन सब बातों को लेकर व्यापारी दुविधा में दिखे। कुछ देर माल-सामान की जांच, अकाउंट देखकर व्यापारी दुकानें बंदकर घर लौट गए। दोपहर ढाई बजे तक अधिकतर दुकाने बंद हो गई थीं। महानगर पालिका ने बाहर के राज्यों और जिलों से यहां आने वाले व्यापारियों को 14 दिन होम क्वाॅरेंटाइन में रहने का निर्देश दिया है, जिससे कारोबारियों की चिंता बढ़ गई है।

व्यापारियों का कहना है कि इस नियम में कुछ छूट देनी चाहिए। बाहर से अगर कोई व्यापारी खरीदारी को दो दिन के लिए यहां आता है तो उसे 14 दिन होम क्वाॅरेंटाइन में रखने से दिक्कत हो जाएगी। इससे बाहरी व्यापारी यहां आने से डरेंगे। फोस्टा के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल ने बताया कि कपड़ा मार्केट शुरू होने से रौनक लोटी है। आगामी 2 दिनों में लिंबायत जोन की बंद 13 मार्केट भी शुरू करवाने के प्रयास जारी हैं।
ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करने के लिए पिंक और यलो कूपन बनाए
मिलेनियम मार्केट के सिक्युरिटी हेड मनीष भाई ने बताया कि मार्केट में गाइडलाइन के मुताबिक सारी व्यवस्था की है। अाॅड-ईवन के नियम के तहत दुकानें खुल सकें इसके लिए पिंक और यलो कूपन बनाए गए हैं। पिंक कूपन वाले व्यापारी सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और यलो कूपन वाले व्यापारी मंगलवार, गुरुवार, शनिवार को दुकान खोल पाएंगे। सोमवार को मिलेनियम मार्केट में 300 से 400 दुकानें खुली।

अधिकतर मार्केट ने एक ही गेट खोला

सोमवार से कपड़ा मार्केट शुरू तो हुए, लेकिन एसटीएम, मिलेनियम, जेजे मार्केट सहित अधिकतर मार्केट ने एक या दो गेट ही खोले थे। बाहर से मार्केट में आने वाले व्यापारी और लेबर समेत सभी की टेंप्रेचर गन से थर्मल स्क्रीनिंग की गई। उसके बाद ही प्रवेश दिया गया। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनना भी सभी के लिए अनिवार्य किया गया था। लहंगा व्यापारी संजय जैन ने बताया कि वह सोमवार को दुकान पर आए और साफ-सफाई की, बैंक के काम की शुरुआत की। कहीं से पेमेंट तो आया नहीं, लेकिन वैल्यूएडिशन का काम करने वालों के सुबह से लगातार फोन आने लगे थे। आगामी दिनों में यही माहौल रहेगा।

पार्सल इतने कम कि एक ट्रक माल भी बाहर नहीं गया
सूरत गुड्स टेक्सटाइल वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष युवराज देशले ने बताया कि सोमवार को कम माल आया। इतने कम पार्सल आए हैं कि एक ट्रक भी नहीं जा पाया। धीरे-धीरे कारोबार की गति बढ़ेगी, लेकिन अभी इसमें समय लगेगा। कपड़ा दलाल जिनेश जैन ने बताया कि एक्सपोर्ट का काम अभी पूरी तरह ठप है। फिजी, अाॅस्ट्रेलिया और अमेरिका के व्यापारी नया माल तो मंगवा नहीं रहे हैं। उल्टा जो माल पोर्ट पर है या ट्रांसपोर्ट में है उसे भी वापस करने को कह रहे हैं। िससे मुझ जैसे दलालों की कमर टूट गई है।

6000 कपड़ा व्यापारी अभी भी राजस्थान में ही हैं
लाॅकडाउन के दौरान लगभग 6000 कपड़ा व्यापारी अपने गांव राजस्थान चले गए। अब कपड़ा बाजार शुरू हो चुका है तो राजस्थान से लौटने वाले व्यापारी चिंतित हैं। कपड़ा व्यापारी सुरेंद्र सेठिया ने बताया कि हम सूरत लौट आएंगे फिर भी 14 दिन दुकानें नहीं खोल पाएंगे। इस समस्या का कोई हल निकालना चाहिए। टेक्सटाइल में काम करने वाले करीब 2 लाख श्रमिक भी गांव गए हैं।

बाहर के व्यापारी सोशल मीडिया के माध्यम से ऑर्डर दे सकते हैं: आयुक्त

महानगर पालिका के कमिश्नर बंछानिधि पाणी ने बताया कि अन्य जिले और राज्यों से आने वाले सभी व्यापारियों को 14 दिन होम क्वाॅरेंटाइन में रहना अनिवार्य है। बाहर से अाया कोई व्यापारी 14 दिन होम क्वाॅरेंटाइन नहीं रहा तो जुर्माने के साथ मामला भी दर्ज किया जा सकता है। बाहर के व्यापारी ऑनलाइन या सोशल मीडिया के माध्यम से ऑर्डर दे सकते हैं।

फोस्टा: दो दिन की खरीदारी के लिए आने वाले व्यापारियों के जल्द जाने की व्यवस्था करने को कहेंगे
फोस्टा सेक्रेटरी चंपालाल बोथरा ने कहा कि सरकार ने इंटर स्टेट आने-जाने की छूट तो दी है, लेकिन 14 दिन के होम क्वाॅरेंटाइन करने के नियम से बड़ी समस्या है। ऐसे में बाहर की मंडियों से कोई व्यापारी कपड़ा खरीदने नहीं आएगा। इसके लिए कोई गाइडलाइन बनानी होगी। कोई व्यापारी दो दिन की खरीदारी के लिए आता है तो उसे जल्द जाने की व्यवस्था करें। यह बात हम मनपा के सामने रखेंगे। इससे व्यपारियों का भय खत्म होगा और तेजी से कारोबार बढ़ेगा। इस संदर्भ में कलेक्टर से मांग कर गाइडलाइन जारी कर निराकरण लाने को कहेंगे।

मांग: आयुक्त से मिल व्यापारी बोले- लिंबायत से आने वालों को रोकिए
साउथ गुजरात टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन ने मनपा कमिश्नर बंछानिधि पाणी से सोमवार को मुलाकात की और उन्हें कपड़ा मार्केट की स्थिति से अवगत कराया। लिंबायत और अन्य कंटेंनमेंट जोन से जो लोग आ रहे हैं उन्हें रोकने को कहा, ताकि मार्केट क्षेत्र में संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। साइक्लोन के बारे में भी चर्चा हुई। कमिश्नर ने कहा कि 3 और 4 जून को अपने घर पर रहें और इसे भी लाॅकडाउन मान अपनी सुरक्षा का ध्यान दें। इस चर्चा में सावरजी बुधिया, सुनील जैन, दिनेश कटारिया और अमित जैन उपस्थित थे।

मुलाकात: व्यवस्था बनी रहे इसलिए सलाबतपुरा पुलिस से मांगी मदद
व्यापारियों ने सलाबतपुरा पुलिस थाने में एसीपी और पीआई किंकानी से मुलाकात कर मार्केट में व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग देने को कहा। साथ ही लिंबायत जोन के 13 मार्केट को जल्द खोलने के लिए मनपा कमिश्नर से आदेश जारी करने की मांग की। फोस्टा की ओर से अध्यक्ष मनोज अग्रवाल, राजेश अग्रवाल, रंगनाथ सारडा, जबकि एसजीटीटीए की ओर से सुनील जैन और मोहन अरोरा मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना