कालाबाजारी / 700 रुपए की टिकट 2000 में खरीदकर ओडिशा जाने वाले श्रमिकों को समझाया

X

  • सिंडीकेट सदस्य भावेश रबारी ने कलेक्टर से की शिकायत
  • टिकट की दलाली करने वालों को गिरफ्तार करे पुलिस: भावेश रबारी

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

सूरत. वीर नर्मद दक्षिण गुजरात यूनिवर्सिटी के सिंडिकेट सदस्य भावेश रबारी ने 700 रुपए की टिकट 2000 में खरीदकर ओडिशा अपने गांव जाने वाले श्रमिकाें काे राेककर समझाया। रबारी ने श्रमिकाें से बातचीत की पता चला कि लाॅकडाउन में टिकटाें की कालाबाजारी जाेराें से हाे रही है। दलाल श्रमिकाें की मजबूरी का फायदा उठाते हुए 700 का टिकट तिगुने दामों में बेच रहे हैं। सिंडीकेट सदस्य भावेश रबारी ने कलेक्टर से शिकायत कर दलालों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

सिंडीकेट सदस्य ने बताया कि ओडिशा के गंजाम जिले में जाने के लिए श्रमिकों को वराछा में स्क्रीनिंग करके बस में बिठाया जा रहा था। रबारी ने स्क्रीनिंग करने वाले श्रमिकों से पूछताछ की तो पता चला कि दलाल रेलवे टिकटों की कालाबाजारी कर रहे हैं और तिगुने दामों में बेच रहे हैं। श्रमिकों की बातें सुनने के बार सिंडीकेट सदस्य ने मौके पर मौजूद मामलतदार और पुलिस अधिकारियों से शिकायत की।

ज्ञातव्य है कि भावेश रबारी ने दलालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए उमरा पुलिस थाने को अर्जी भी लिखी है। टिकट दलाली का वीडियो बनाकर भी थाने को दिया गया है। पुलिस इस आधार पर मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई करे। ज्ञातव्य है कि लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को ट्रेन से उनके गांव भेजा जा रहा है। इस दौरान कुछ लोग टिकट की कालाबाजारी कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश की ट्रेन फ्री होने के बावजूद टिकट की कालाबाजारी नहीं थम रही है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना