पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Sunita Yadav Met CP On Third Day, Said I Want To Leave The Job And Become IPS, Got Good Luck

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सोशल मीडिया की पोस्ट से किया किनारा:मंत्री के बेटे को फटकार लगाने वाली कांस्टेबल कमिश्नर से मिलीं, कहा- नौकरी छोड़कर आईपीएस बनना चाहती हूं

सूरत10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुनीता ने फेसबुक पर पोस्ट कर ट्वीट को बताया फर्जी, उसके पिता की कार। - Dainik Bhaskar
सुनीता ने फेसबुक पर पोस्ट कर ट्वीट को बताया फर्जी, उसके पिता की कार।
  • कमिश्नर ने सुनीता से कहा- अगर वह कोई लिखित शिकायत करना चाहती हैं, तो उसकी जांच भी की जाएगी
  • सुनीता के भाई सुनील यादव ने बताया कि ट्वीटर पर उनकी बहन के नाम से फेक एकाउंट बनाया गया है

गुजरात के स्वास्थ्य राज्य मंत्री कुमार कनानी के बेटे को कर्फ्यू तोड़ने पर फटकार लगाने वाली पुलिस कांस्टेबल सुनीता यादव तीसरे दिन भी चर्चा में रहीं। यादव ने पुलिस कमिश्नर राजेंद्र ब्रह्मभट्‌ट से मुलाकात कर कहा कि वो अपना फर्ज निभा रही थी। वह अब नौकरी छोड़कर आईपीएस बनाना चाहती है। इसके बाद कमिश्नर ब्रह्मभट्‌ट ने उन्हें शुभकामनाएं भी दी है। साथ ही कहा है कि अगर वह कोई लिखित शिकायत करना चाहती हैं, तो उसकी जांच भी की जाएगी। 

कमिश्नर ने यह भी कहा हम सभी लोकसेवक हैं और हमें अच्छा बर्ताव करना चाहिए। सुनीता के भाई का कहना है कि सुनीता ने अपना इस्तीफा दे दिया है, लेकिन कमिश्नर ने कहा कि अभी तक उन्हें इस्तीफे की कोई जानकारी नहीं मिली है।

दावा: सुनीता के पिता की कार पर पुलिस का नेम प्लेट, नैतिकता पर सवाल

कांस्टेबल सुनीता की उनके पिता के साथ फोटो भी सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है। दावा किया जा रहा है कि कार पिता की है, जिस पर पुलिस की नेम प्लेट लगी हुई है। इस नेम प्लेट को लेकर इसलिए सवाल उठ रहे हैं क्योंकि सुनीता ने स्वास्थ्य राज्यमंत्री कुमार कनानी के बेटे को पिता की कार और उनके नेम प्लेट को इस्तेमाल करने के लिए फटकार लगाई थी। ऐसे में लोग अब सवाल पूछ रहे हैं कि जब प्रकाश कनानी अपने पिता के नेम प्लेट का इस्तेमाल नहीं कर सकते तो फिर सुनीता यादव के पिता की कार पर पुलिस का नेम प्लेट क्यों है। अब कहां गई नैतिकता और नियम कायदे। दावा किया जा रहा है कि कार सुनीता के पिता की है।

सुनीता राजस्थान के सीकर की रहने वाली
सुनीता यादव मूलत: राजस्थान के सीकर जिले के रानोली की रहने वाली है। उनके चाचा-ताऊ सहित परिवार के अधिकांश लोग यहीं रहते हैं। सूरत में उसके पिता रहते हैं। वहीं सुनीता के नाम पर सोशल मीडिया पर कई पैरोडी अकाउंट बन गए हैं। इस पर उनके नाम से तमाम पोस्ट किए जा रहे हैं। सुनीता के भाई सुनील यादव ने बताया कि ट्वीटर पर उनकी बहन के नाम से फेक एकाउंट बनाया गया है। वहीं सुनीता ने भी इसका खंडन किया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें