पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Two Friends Clashed In A Love Affair With A Girl, Killing A 16 year old Minor Intervening

जंगल में खूनी खेल:युवती से प्रेम प्रकरण में दो दोस्त भिड़े, बीच-बचाव कर रहे 16 साल के नाबालिग की हत्या

हालोल24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक दशरथ (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मृतक दशरथ (फाइल फोटो)
  • हालोल तहसील के तलावडी गांव के जंगल की घटना
  • पावागढ़ पुलिस थाने में केस दर्ज, आरोपियों की तलाश शुरू

हालोल तालुका में तलावडी गांव के जंगल में एक ही युवती से प्रेम प्रकरण में दो प्रेमियों के बीच मारपीट हो गई। इस दौरान बीच-बचाव करने गए 16 वर्षीय किशोर की हत्या कर दी गई है जबकि दो युवकों के घायल हो जाने पर उन्हें इलाज के लिए हालोल के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस मामले को पावागढ़ पुलिस ने हत्या, हमला और एट्रोसिटी सहित अन्य धाराओं के तहत दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार शिवराजपुर के पास स्थित घाटा गांव में रहने वाले महेश सोमाभाई राठवा के मोबाइल पर सुबह के समय अमरापुरा गांव के दोस्त संजय कंचर परमार का फोन आया था कि मै तेरे गांव में आकर रूबरू मिलता हूं।

इसलिए दोपहर संजय और जयदेव विठ्‌ठल परमार बाइक लेकर आए थे और तीनों बाइक पर सवार होकर तलावडी गांव के श्मशान के पास जंगल में महुड़ा के पेड़ के नीचे बैठे थे। तभी वहां पर हितेंद्र को फोन करके बुलाया गया। हितेंद्र उसके दोस्त दशरथ को लेकर जंगल में पहुंचा। कुछ देर बाद पांचों दोस्त बातचीत कर रहे थे तभी जयदेव ने हितेंद्र के बीच युवती से प्यार करने को लेकर विवाद हो गया।

पावागढ़ पुलिस थाने में केस दर्ज, आरोपियों की तलाश शुरू

हितेंद्र और जयदेव के बीच हुई हाथापाई में हितेंद्र कुछ समझे इससे पहले जयदेव ने साथ में लाया हुआ खंजर से हितेंद्र पर हमला कर दिया। हितेंद्र को बचाव के लिए आवाज देने पर महेश, संजय और दशरथ भी दौड़ आए। जहां महेश बीचबचाव करने लगा तभी संजय ने महेश को पीछे से पकड़ लिया और जयदेव ने खंजर से हमला कर दिया। जबकि महेश ने खंजर पकड़ लिया जिससे उसका हाथ कट गया।

अपनी आंखों के सामने चल रहे इस खूनी खेल को देखकर 16 वर्षीय दशरथ भयभीत हो गया और बीचबचाव करने लगा। इस घटना के बाद गंभीर घायल हितेंद्र और महेश अपनी जान बचाकर वहां भाग निकले जबकि दशरथ किसी को कुछ बता न दें इसलिए संजय और जयदेव ने उस पर खंजर से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया और दोनों फरार हो गए।

महेश रेफरल और हितेंद्र हालोल के निजी अस्पताल में

वहीं दूसरी ओर हितेंद्र और महेश को 108 के जरिए रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां हितेंद्र की हालत नाजूक बताई जा रही है इसलिए उसे हालोल के निजी अस्पताल में रेफर किया गया। इस मामले में पावागढ़ पुलिस ने जयदेव विठ्‌ठल परमार और संजय कंचन परमार के खिलाफ हत्या, हमला और एट्रोसिटी का केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...