पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कैसे लें वैक्सीन?:ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन की हो सुविधा तो श्रमिकों का हो पाएगा टीकाकरण

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डिप्टी लेबर कमिश्नर का आदेश- श्रमिक टीका लगवाएं, पर रजिस्ट्रेशन मुश्किल
  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने में श्रमिकों को परेशानी हो रही है

डिप्टी लेबर कमिश्नर कार्यालय द्वारा साउथ गुजरात चेम्बर ऑफ कॉमर्स, फोस्टा, सूरत डायमंड एसोसिएशन समेत 19 टेक्सटाइल और डायमंड से जुड़ी संस्थाओं को पत्र लिख कर 18 से 45 श्रमिकों को वैक्सीन लगवाने की हिदायत दी है। 18 से 44 वर्ष वालों को वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होता है, पर श्रमिकों का टीकाकरण कराने में सबसे बड़ी समस्या यह है उनमें से ज्यादातर अनपढ़ हैं। ऐसे में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने में दिक्कत आ रहा है, जिस कारण श्रमिकों का वैक्सीनेशन कराने की प्रक्रिया काफी धीमी है।

ऐसे में कपड़ा और हीरा मार्केट में काम करने वाले लाखों श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन कराकर उनका वैक्सीनेशन करवाना एक चुनौती भरा काम है। ऐसे में कपड़ा और हीरा मार्केट से जुड़ी संस्थाओं ने सूरत नगर महापालिका को पत्र लिखकर श्रमिकों का वैक्सीनेशन कराने के लिए स्पॉट रजिस्ट्रेशन और मार्केट में ही वैक्सीनेशन सेंटर खोलने की मांग की है। उनका कहना है कि इससे श्रमिकों के टीकाकरण में सुविधा होगी और मार्केट में फिर से काम चालू हो सकेगा।

टेक्सटाइल मार्केट में वैक्सीन के लिए 26 केंद्र थे

पिछले दिनों टेक्सटाइल मार्केट विस्तार में वैक्सीन के लिए 26 सेंटर शुरू किए गए थे। अधिक केंद्र होने के कारण कपड़ा मार्केट में 45 साल से अधिक उम्र के लोगों ने तेजी से वैक्सीन ले ली थी। इसी तरह टेक्सटाइल मार्केट में वैक्सीन केंद्र शुरू हो जाए तो 18 से 45 साल के श्रमिक भी तेजी से वैक्सीन ले सकते हैं।

स्पॉट रजिस्ट्रेशन की मांग के साथ 2 वैक्सीन सेंटर शुरू करें

फोस्टा अध्यक्ष मनोज अग्रवाल ने बताया कि टेक्सटाइल मार्केट में लाखों श्रमिक हैं। उन्हें वैक्सीन देने के लिए मार्केट में ही कम से कम 2 वैक्सीन सेंटर शुरू करना आवश्यक हैं। इसके अलावा रजिस्ट्रेशन को लेकर श्रमिकों को काफी परेशानी होती है, इसलिए स्पॉट रजिस्ट्रेशन कर वैक्सीन दी जाए, इसकी मांग मनपा आयुक्त से की है।

8000 वैक्सीन का स्टॉक

मनपा के रीजनल स्टोरेज सेन्टर में 8000 वैक्सीन का स्टॉक है। जिसमें 4000 कोविशिल्ड और 4000 कोवैक्सीन हैं। जो 45 साल से अधिक उम्र वालों के लिए हैं। इसके अलावा मनपा के स्टोरेज सेंटर में कोई स्टॉक नही हैं। शुक्रवार को 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए 24000 डोज वितरित किए गए। 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए 1 मई को जो 50 हजार डोज वितरण किए थे जो अभी तक सेंटर्स पर दिए जा रहे हैं।

कपड़ा और हीरा मार्केट में करीब 20 लाख श्रमिक कार्यरत

शहर में करीब 15 लाख श्रमिक टेक्सटाइल सेक्टर में और 5 लाख से अधिक श्रमिक डायमंड कारोबार में जुड़े हैं। इन दोनों कारोबार में जुड़े अधिकतर श्रमिक 18 से 45 साल की उम्र के हैं और अधिकतर अनपढ़ हैं। ऐसे में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को लेकर उन्हें परेशानी हो रही है। इतना ही नहीं जो श्रमिक वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने को ऑनलाइन आवेदन कर रहे हैं।

उनको कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। जैसे पोर्टल का स्लो चलना, अगले दिन वैक्सीन लगवाने का स्लॉट नहीं मिलना और वैक्सीन कहां लगवानी है, इसकी जानकारी कहां से मिलेगी ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में टेक्सटाइल और डायमंड सेक्टर ने विभिन्न मुद्दों को लेकर मनपा आयुक्त को पत्र लिखा है।

18 से 45 साल के श्रमिकों का तुरंत रजिस्ट्रेशन हो

सूरत डायमंड एसोसिएशन के अध्यक्ष नानू वेकरिया ने बताया कि डायमंड उद्योग में 5 लाख से अधिक श्रमिक हैं। इनमें से ज्यादातर श्रमिक कम पढ़े-लिखे हैं, इसके कारण इन्हें रजिस्ट्रेशन में परेशानी हो रही है। इसके लिए मनपा से आवश्यक वैक्सीन उपलब्ध करवाने और सेंटर बढ़ाने की मांग की गई है।

खबरें और भी हैं...