• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • In Vadodara, The Sniffer Dog Caught Within 24 Hours 6 Drug Addicts Who Gang raped And Murdered, On Seeing One Of The Accused Started Barking 'Java'

स्नीफर डॉग का कमाल:वडोदरा में स्नीफर डॉग ने 24 घंटे में ही पकड़वा दिया गैंगरेप कर हत्या करने वाले 6 नशेड़ियों को, एक आरोपी को तो देखते ही भौंकने लगा था 'जावा'

वडोदरा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस हिरासत में सभी 6 आरोपी और इनसेट में वडोदरा पुलिस का स्नीफर डॉग 'जावा' और मृतका। - Dainik Bhaskar
पुलिस हिरासत में सभी 6 आरोपी और इनसेट में वडोदरा पुलिस का स्नीफर डॉग 'जावा' और मृतका।

वडोदरा जिले के देथन गांव में गैंगरेप और हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया था। इस मामले में पुलिस ने 6 युवकों को अरेस्ट कर लिया है। हालांकि, वडोदरा पुलिस को यह कामयाबी 'जावा' नाम के अपने स्नीफर डॉग की वजह से मिली है। क्योंकि, जावा ने ही पता लगाया था कि आरोपी पास ही बैठकर नशा कर रहे थे। इसके बाद 'जावा' बस्ती में पहुंचते ही एक आरोपी के पास जाकर भौंकने लगा था।

देथन गांव में रहने वाली मृतका मेहनत-मजदूरी कर अपने दो बच्चों का पेट पाल रही थी।
देथन गांव में रहने वाली मृतका मेहनत-मजदूरी कर अपने दो बच्चों का पेट पाल रही थी।

घास काटने गई थी पीड़िता
करजण तहसील के देथन गांव में रहने वाली महिला 16 अगस्त को घास काटने खेत पर गई थी। इसी दौरान खेत में बैठकर नशा कर रहे 6 युवकों ने झाड़ियों में ले जाकर उसके साथ गैंगरेप किया था। पकड़े जाने के डर से आरोपियों ने महिला के दुपट्टे से ही गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद शव झाड़ियों में फेंककर फरार हो गए था। बता दें, मृतका दो बच्चों की मां है और पति के साथ मेहनत मजदूरी कर बच्चों का पेट भर रही थी।

गैंगरेप के बाद आरोपियों ने दुपट्टे से गला घोंटकर महिला की कर दी थी हत्या।
गैंगरेप के बाद आरोपियों ने दुपट्टे से गला घोंटकर महिला की कर दी थी हत्या।

घर नहीं पहुंचने पर पति निकला था तलाश में
रात होने तक जब महिला घर नहीं पहुंची तो पति ने उसकी आसपास तलाश की। कोई खबर न मिलने पर गावंवाले टॉर्च लेकर तलाश में निकले। इस दौरान महिला के फोन पर रिंग जा रही थी। इसी बीच किसी ने मोबाइल की रिंग टोन सुन ली। इसके बाद जब लोग मौके पर पहुंचे तो महिला का शव देखा और पुलिस को सूचना दी।

वडोदरा पुलिस का स्नीफर डॉग 'जावा'
वडोदरा पुलिस का स्नीफर डॉग 'जावा'

'जावा' ने पता लगाया कि आरोपी पास ही नशा कर रहे थे
डीवायएसपी कल्पेश सोलंकी के मार्गदर्शन में बनी टीम ने स्क्वायड और फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट की मदद से जांच शुरू की। इसमें सबसे अहम रोल स्नीफर डॉग 'जावा' ने निभाया। शव वाले स्थल को सूंघने के बाद जावा पुलिस को उस जगह तक ले गया, जहां बैठकर आरोपी नशा कर रहे थे। इससे मालूम हुआ कि आरोपी यहां बैठकर ड्रग्स ले रहे थे। बस इसी जानकारी ने पुलिस का काम आसान कर दिया।

आरोपी को देखते ही भौंकने लगा 'जावा'
इसके बाद पुलिस की टीम ने नशेड़ियों के बारे में पता लगाना शुरू किया। इसी बीच जानकारी मिली की पास ही के गांव की बस्ती में रहने वाले कुछ युवक ड्रग्स का नशा करते हैं। इस मामले में दोबारा जावा की मदद ली गई। जब पुलिस की टीम नशा करने वाले युवकों से पूछताछ करने पहुंची तो जावा को अपने साथ ले गई। इसी दौरान जावा एक नशेड़ी के पास जाकर भौंकने लगा और यही पुलिस के लिए जावा की ओर से साफ इशारा था। बस, इस तरह जावा ने सभी 6 आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। आरोपियों ने अपना जुर्म कुबूल भी कर लिया है।

रेलवे में मजदूरी करने आए थे आरोपी।
रेलवे में मजदूरी करने आए थे आरोपी।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सभी आरोपी यूपी-बिहार और झारखंड के रहने वाले हैं। हाल ही में रेलवे में मजदूरी के लिए वडोदरा आए थे। आरोपियों के नाम... लाल बहादुर गिरजाराम, दिलीप श्रीमुखलाल चौधरी, जग्गू प्रसाद पांडू, प्रमोद रामचरण पांडू, रामसूरत सुभाषचंद पांडू, और अर्जुन लालचंद पंडोर हैं।

खबरें और भी हैं...