पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दर्दनाक हादसा:पैदल काम खोजने जा रहा था, पानी से भरे बेकाबू टैंकर ने टक्कर मार दी, मौत

सूरत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भेस्तान के सिद्धार्थ नगर में टैंकर की टक्कर से युवक की मौत होने के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। - Dainik Bhaskar
भेस्तान के सिद्धार्थ नगर में टैंकर की टक्कर से युवक की मौत होने के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई।
  • भेस्तान और पांडेसरा में अलग-अलग हादसों में दो लोगों की मौत हो गई

भेस्तान में मंगलवार को सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। एक युवक पैदल काम खोजने जा रहा था, इसी बीच पानी से भरे बेकाबू टैंकर ने अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में गंभीर रुप से घायल युवक की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने टैंकर ड्राइवर को पकड़कर पीटने के बाद पांडेसरा पुलिस के हवाले कर दिया।

जानकारी के अनुसार रोहित पुत्र भिखारी प्रधान(41 वर्ष) पत्नी और दो बेटियों के साथ भेस्तान के सिद्धार्थ नगर में रहता था। रोहित मजदूरी करता था। मंगलवार को सुबह 7.30 बजे रोहित सिद्धार्थ नगर चौराहे के पास पैदल जा रहा था, तभी पानी से भरे बेकाबू टैंकर ने टक्कर मार दी। रोहित की मौके पर ही मौत हो गई।

हादसे के बाद ड्राइवर टैंकर से नीचे उतरकर भागने की फिराक में था, तभी आसपास के लोगों ने पकड़कर उसकी पिटाई शुरू कर दी। ड्राइवर को पीटने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया गया। पांडेसरा पुलिस ने टैंकर ड्राइवर रणधीर निर्भयसिंह ठाकुर को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

मृतक की आंखें दान की
हादसे के बाद उड़िया समाज के लोग भी मौके पर पहुंच गए थे। प्रवासी उड़िया समाज ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने परिवार को चक्षुदान के महत्व के बारे में समझाया। इसके बाद परिवार ने रोहित की दोनों आंखें दान कर दी।

उधर, ड्रम मशीन में श्रमिक का सिर फंस गया, मौके पर मौत, परिजनों ने मुआवजे की मांग कर शव लेने से किया इनकार

सूरत | पांडेसरा की एक मिल में मंगलवार काे सुबह काम करते समय ड्रम मशीन में सिर फंसने से कारीगर की मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही परिजन मिल पर पहुंच गए। परिजनाें मुआवजे की मांग करते हुए हंगामा कर शव ले जाने से इनकार कर दिया। मिल मालिक के समझाने के बाद परिजन शव ले जाने को राजी हुए।

जानकारी के अनुसार सुरेश पुत्र रामसखा पटेल(40 वर्ष) पत्नी और एक बेटी के साथ पांडेसरा के मारुति नगर में रहता था। सुरेश पांडेसरा जीआईडीसी में कनिष्का डाइंग मिल में काम करता था। मंगलवार को सुबह 9 बजे ड्रम मशीन से ग्रे ताका निकाल रहा था, तभी अचानक ढक्कन खुलने से उसका सिर मशीन में फंस गया।

गंभीर रूप से घायल सुरेश की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही मृतक के परिजन और परिचित मिल पर पहुंचकर हंगामा करने लगे। परिजनों ने मुआवजे की मांग करते हुए शव लेने से इनकार कर दिया। मिल मालिक से बातचीत होने के बाद शव ले जाने को राजी हुए। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई।

भांजे ने बताया- पानी से भरे टैंकर फुल स्पीड में दौड़ते हैं
मृतक के भांजे जगन्नाथ साहू ने बताया कि मामा सुबह काम खोजने जा रहे थे, तभी टैंकर नंबर जीजे 06 टीटी 9369 के ड्राइवर ने जोर से टक्कर मार दी। मामा नीचे गिर गए। उनके सीने और दाएं पैर में गंभीर चोटें लगी। 108 एंबुलेंस को फोन किया। मौके पर पहुंचे 108 एंबुलेंस के कर्मचारियों ने मृत घोषित कर दिया। जगन्नाथ साहू ने बताया कि पानी से भरे टैंकर यहां फुल स्पीड में दौड़ते हैं। ड्राइवर मिलों में जल्दी पानी पहुंचाने के चक्कर में हादसे करते रहते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें