सिरसगढ़ के पास बार-बार हाे रहे हादसे:दोसड़का के लिए उतर रहे साइड लेन का कट सही नहीं, कांटा करवा ट्रक राॅन्ग साइड आते हैं

बराड़ा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एनएच-344 पर सिरसगढ़ से दोसड़का की ओर जाने वाले साइड लेन पर गलत दिशा से आ रहा ट्राॅला। - Dainik Bhaskar
एनएच-344 पर सिरसगढ़ से दोसड़का की ओर जाने वाले साइड लेन पर गलत दिशा से आ रहा ट्राॅला।

नेशनल हाईवे-344 से सिरसगढ़ के पास दोसड़का के लिए उतर रहे साइड लेन का कट सही न होने के कारण वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आलम यह है कि इस सीधे कट के कारण यहां कई बार हादसे हो चुके हैं, लेकिन नेशनल हाईवे अथॉरिटी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। समाजसेवी यशपाल शर्मा ने बताया कि नेशनल हाईवे-344 पर जहां भी पुल लगे हैं, वहां पर साइड लेन दी गई है। लेकिन जो साइड लेन सिरसगढ़ से दोसड़का आने के लिए बनाई गई है, उसे पूरा नहीं बनाया गया है।

नेशनल हाईवे-344 से टंगैल जाने के लिए सीधा कट दिया गया है और उसी कट से दोसड़का को जाने वाली साइड लेन शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि जब वाहन चालक मुलाना की तरफ से आता है तो उसे यह कट दिखाई ही नहीं देता। शर्मा ने बताया कि जब वहां चालक अचानक से कट देखते हैं तो उनके हाथ पैर फूल जाते हैं। हरजिंदर सिंह, नरेश चौहान का कहना है कि नेशनल हाईवे अथॉरिटी को कट बंद करके इस साइड लेन को और लंबा करना चाहिए। अगर ऐसा होगा तभी यहां हादसे रुक सकते हैं।

गलत दिशा में आ रहे वाहनों से हो रहे हादसे
सिरसगढ़ से दोसड़का जाने वाले साइड लेन के शुरू में ही धर्मकांटे लगे हुए हैं। अशोक कुमार ने बताया कि काफी वाहन मुलाना की तरफ से कांटा करवाने आते हैं और कांटा करवाकर राॅन्ग साइड से जाकर दोबारा नेशनल हाईवे पर चढ़ जाते हैं। ऐसे में जब वहां चालक अचानक इन गलत दिशा में आ रहे वाहनों को देखते हैं तो उनके हाथ पैर फूल जाते हैं। यह वजह हादसे का कारण बनती है।

इसी कट पर हुए सड़क हादसे का शिकार हुए थे समाजसेवी तरुण कौशल
नेशनल यूथ अवाॅर्डी तरुण कौशल भी इसी कट पर हुए हादसे का शिकार हुए हैं। हादसे के बाद वायरल हुई वीडियो में साफ दिख रहा है कि जिस ट्रक का पहिया तरुण कौशल के ऊपर से गुजरा व कांटा करवाकर गलत साइड से नेशनल हाईवे पर चढ़ने की कोशिश कर रहा था। इतना ही नहीं हादसे से वक्त एक कैंटर व एक ट्रक गलत दिशा से आ रहे थे।

गलत दिशा से चलने वाले वाहनों पर सख्ती बरती जाएगी। मैं इस बारे में ट्रैफिक इंस्पेक्टर से भी बात करूंगा। -सुभाष सिंह, थाना प्रभारी, मुलाना।

इस कट को सही करने का मामला रोड सेफ्टी की मीटिंग में रखा जाएगा। जल्द ही इस कट का सुधारीकरण करवाया जाएगा। -सत्यवान सिंह मान, एसडीएम, बराड़ा।

खबरें और भी हैं...