आदेश:प्लाॅट के नाम पर धोखाधड़ी, एसपी के आदेश पर केस दर्ज

छछरौली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान में प्लाॅट देने के नाम पर एक व्यक्ति के साथ हुई धोखाधड़ी की शिकायत पर एसपी ने मामला दर्ज करने के आदेश दिए थे। इस पर छछरौली पुलिस ने धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है। एसपी को दी शिकायत में सिंह पुरा निवासी राजबीर ने बताया कि उसके गांव के ही सेवाराम के साथ उसकी अच्छी जान पहचान है। इसके चलते सेवाराम ने मार्च 2011 में एक प्राइवेट कंपनी में 200 रुपए महीना जमा करवाकर राजस्थान में प्लाट देने की बात कही जिससे वह उसकी बातों में आ गया और 11 मार्च 2011 से उसने 72 महीने तक 200 रुपए प्रति माह की दर से किस्त शुरू कर दी।

आरोपी ने उसे एक सर्टिफिकेट भी दिया और उसने 72 महीने तक 14,440 अदा किए। इसके बाद 30 अगस्त 2014 को वह दोबारा उसके पास आया और अपनी बातों में उलझा कर उसने कहा कि कंपनी बहुत अच्छा व्यापार कर रही है। वह 200 रुपए महीने की एक स्कीम और शुरू कर दे। इस स्कीम में उसे 200 रुपए प्रति माह के हिसाब से 60 महीने तक देने हैं। कुल 12,000 रुपए होने पर कंपनी उसे राजस्थान में एक प्लाट देगी या आप ब्याज समेत 16,800 रुपए वापस ले सकते हैं। इससे वह उसकी बातों में आ गया और आराेपी को 200 रुपए प्रति माह की दर से दूसरी स्कीम में भी पैसे अदा करता रहा।

इसमें भी आरोपी ने एक सर्टिफिकेट दिया। 60 महीने में कुल 12,000 रुपए अदा कर दिए। जब दोनों स्कीमें पूरी हो गईं तो ब्याज सहित पैसे वापस करने की अपील की जिस पर आरोपी ने उसे कहा कि कंपनी ने उसके नाम से प्लाट की रजिस्ट्री करवा रखी है। यदि पैसे वापस लेने हैं तो पहले रजिस्ट्री कैंसिल करवानी पड़ेगी। पैसे मांगने पर आरोपी बहाने बनाकर टालमटोल करता रहा और बाद में पैसे वापस देने से इनकार कर दिया। जब कंपनी के राजस्थान ऑफिस में फोन किया तो वहां से कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। इस पर उसने पुलिस को शिकायत दी। जांच पड़ताल के बाद एसपी ने छछरौली पुलिस को मामला दर्ज करने के आदेश दिए थे।

खबरें और भी हैं...