पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब गेहूं खरीद में नमी बनी बाधा:मंडी में 15 हजार क्विंटल गेहूं की आवक, खरीदा 2 हजार क्विंटल, 12.2% नमी वाली ढेरियों की भी खरीद नहीं

कैथल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैथल| गेहूं नमी चेक करते सेक्रेटरी व कर्मचारी।  - Dainik Bhaskar
कैथल| गेहूं नमी चेक करते सेक्रेटरी व कर्मचारी। 
  • छठे दिन शुरू हुई गेहूं की खरीद, मंगलवार सुबह किसानों ने खरीद न होने पर जताया रोष

नई अनाज मंडी में छठे दिन मंगलवार को भी जब गेहूं खरीद शुरू नहीं हुई तो किसान लामबंद हो गए। किसानों ने खरीद न होने पर नारेबाजी कर रोष जताया। मार्केट कमेटी सचिव को किसानों ने चेतावनी दी कि यदि फसल की खरीद अभी शुरू नहीं की गई तो वे इसके विरोध में आंदोलन शुरू कर देंगे।

इसके बाद मार्केट कमेटी प्रशासन व खरीद एजेंसी फूड एंड सप्लाई ने गेहूं की खरीद शुरू की। इस दौरान मंडी में आई करीब 15 हजार क्विंटल गेहूं में से 2 हजार क्विंटल की ही खरीद की गई।

बाकी फसल में अधिक नमी बताकर खरीद एजेंसी कर्मचारियों ने खरीदने से साफ इनकार कर दिया है। 12.2 प्रतिशत नमी वाली ढेरियों को भी अधिक नमी बताकर खरीदने से इनकार किया जा रहा था जबकि गेहूं खरीद के लिए सरकार ने फसल में नमी की मात्रा 12 प्रतिशत निर्धारित की हुई है। कर्मचारियों के रवैये से किसानों में रोष बढ़ता ही जा रहा है।

12.2 % नमी वाली ढेरी की खरीद न होने पर आढ़तियों ने भी जताया रोष

मंडियों में गेहूं की खरीद नहीं होने से किसानों के साथ-साथ आढ़ती भी परेशान दिखे। एक ढेरी पर जब नमी की मात्रा 12.2 मिली और अधिकारियों ने खरीद से इनकार किया तो आढ़ती सत्यवान भड़क गए । उन्होंने कहा कि मंडी में इससे सूखा गेहूं नहीं मिलेगा और एक ही ढेरी में अलग-अलग बार चेक करने पर नमी की मात्रा कम ज्यादा क्यों होती है। नमी चेक कर रहे कर्मचारियों के पास भी इसका जवाब नहीं था।

आगे क्या... आवक बढ़ने से बढ़ेगी समस्या

दो दिनों से मौसम खराब होने से गेहूं की पकाई पर असर पड़ा है लेकिन उसके बावजूद अगले एक-दो दिन में ही मंडियों में लाखों क्विंटल गेहूं पहुंचने की संभावना है। वहीं दूसरी तरफ गेहूं की खरीद को लेकर अधिकारी गंभीर नहीं दिख रहे हैं। आने वाले दिनों में आवक के साथ ही किसानों व आढ़तियों की परेशानी भी बढ़ेगी।

जानिए... किसानों की परेशानी जो मंडी में गेहूं की फसल लेकर पहुंचे

दो दिन से कर रहा हूं फसल बिकने का इंतजार| पिछले दो दिन से मंडी में गेहूं लेकर आया हुआ हूं। अधिकारियों ने खरीद तो दूर ढेरियों पर आकर तक नहीं देखा। उनकी फसल कब बिकेगी कुछ भी पता नहीं। इससे उनके घर के अन्य काम भी प्रभावित हो गए हैं।
सुमित कालीरामण, गांव चंदाना।

ये भी जानिए... जिले में इन एजेंसियों के जिम्मे खरीद

जिला में इस बार सरकारी खरीद एजेंसी फूड एंड सप्लाई, हैफेड, हरियाणा स्टेट वेयर हाउस, एफसीआई द्वारा गेहूं की खरीद की जाएगी। इसमें सबसे अधिक 2 लाख 71 हजार 843 एमटी गेहूं हैफेड द्वारा खरीदा जाएगा। इसके बाद फूड एंड सप्लाई द्वारा 2 लाख 14 एमटी गेहूं की खरीद की जाएगी।

किसान सुबह मिले थे और बातचीत के तुरंत बाद खरीद शुरू करवा दी गई। नमी की मात्रा अधिक होने के कारण ज्यादातर ढेरियों की खरीद नहीं हो पाई। जो ढेरी सूखी थी, उन्हें खरीद लिया गया।
रोशन लाल, सचिव, मार्केट कमेटी, कैथल।

14 प्रतिशत नमी वाले गेहूं की इस बार खरीद क्यों नहीं| गेहूं बिल्कुल सूखा पड़ा है, लेकिन अधिकारी खरीद को लेकर मनमानी कर रहे हैं। नमी की मात्रा अधिक बता खरीद नहीं कर रहे हैं जबकि पिछले वर्ष 14 प्रतिशत नमी वाला गेहूं भी खरीदा गया था।
मेवा सिंह, गांव नरड़।

सरकार के आदेशानुसार फसल में यदि 12 प्रतिशत से अधिक नमी है तो उसे नहीं खरीदा जाएगा। कैथल अनाज मंडी में मंगलवार को खरीद शुरू हो गई और जिन ढेरियों में 12 प्रतिशत तक नमी थी, उनको खरीद लिया गया है। इसी तरह से जिला की अन्य मंडियों में भी गेहूं खरीद का काम शुरू हो गया है।
प्रमोद कुमार, डीएफएससी, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें