पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ग्रामीणों में आक्रोश:अंबेडकर नगर, हरसौला, क्योड़क बस्ती और मायापुरी कॉलोनी में दूषित पानी आने से लोगों में रोष

कैथल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लोग बोले- 6 माह से आ रहा रेतीला पानी

शहर की अंबेडकर नगर, हरसौला बस्ती, क्योड़क बस्ती और मायापुरी कॉलोनी में कुछ समय से रहवासी पीने का साफ पानी न मिलने से परेशान हैं। आज इन कॉलोनियों के लोगों ने अपने घरों में आने वाले पानी के साथ जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ रोष जताया। वार्ड 12 से पार्षद प्रतिनिधि बलजीत रंगा, जोगिंद्र कुमार, कर्मबीर, सुरेंद्र कुमार, राजीव, संजय, राजेश और रामकला का कहना है कि करीब 6 माह पहले अंबेडकर नगर के श्री रविदास मंदिर में जनस्वास्थ्य विभाग ने ट्यूबवेल लगवाया था।

इसका उद्देश्य था कि वार्ड में जहां ऊंचा एरिया है, वहां पानी ट्यूबवेल चलाकर पानी की स्पीड बढ़ाकर पहुंचा जा सके लेकिन ट्यूबेवल करीब 6 माह से परेशान कर रहा है। इसका पानी नहरी पानी के साथ मिलकर आने से घरों में गंदा पानी पहुंच रहा है। पानी में रेत आ रहा है, रंग पीला है और अब तो कुछ बदबू भी आने लगी हैं। ऐसा पानी न तो पीने लायक और न अन्य किसी काम के आ रहा है।

शिकायत के बाद भी नहीं हो रहा समाधान: बलजीत
पार्षद प्रतिनिधि बलजीत रंगा का कहना है कि इस बारे में विभाग के जिम्मेदारी अधिकारियों को बताया गया, लेकिन समस्या का हल नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि गर्मी के दिनों में की खपत बढ़ जाती है। ऐसे में लोगों को साफ पानी भी नहीं मिल रहा है। इससे लोग परेशान हैं। उन्होंने कहा कि अगर समस्या का हल नहीं हुआ तो वे कड़ा कदम उठाने को मजबूर होंगे। उनकी मांग है कि ट्यूबवेल को ठीक किया जाए या फिर वहां नया टयूबवेल लगाया जाए ताकि लोगों को साफ पानी मिल सके।

^पानी में अगर बदबू की समस्या है तो चेक करवाया जाएगा। पहले भी इस ट्यूबवेल को रेतीला पानी देने पर ठीक करवाया गया था। अब फिर से चेक करवा कर समस्या का हल किया जाएगा।
सतपाल सिंह, एसडीई, जनस्वास्थ्य विभाग, कैथल।

खबरें और भी हैं...