पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

2 गांव शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन के करीब:मजदूरों के काम से आने के इंतजार में रात को 8:30 बजे तक बैठी रहीं एएनएम और स्टाफ

कैथल22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इसी जज्बे ने वैक्सीनेशन के आंकड़े को 10 दिन में 90 प्रतिशत के पार पहुंचाया

जिले के 2 गांव शत प्रतिशत वैक्सीनेशन के लक्ष्य को हासिल करने के करीब हैं। गांव कुकरकंडा में 97 प्रतिशत और बीरबांगड़ा में 91 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। 10 दिन पहले तक इन दोनों गांवों में 18 प्लस की सिर्फ 25 से 30 प्रतिशत आबादी को ही वैक्सीन लगी थी। लेकिन उसके बाद 100 प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने का ऐसा भूत सवार हुआ कि फिर कर्मचारियों ने दिन रात एक कर दिया।

लक्ष्य तक पहुंचने के लिए दोनों गांव में देर सायं तक वैक्सीनेशन चलता और ड्यूटी खत्म कर घर जाने की जल्दी न कर ग्रामीणों के आने का इंतजार किया जाता। धान का सीजन होने के कारण दिहाड़ी-मजदूर व किसान देर रात को खेतों से लौटते थे। स्टाफ उनके आने का इंतजार करता। गांव बीर बांगड़ा में कई बार रात को 8 से लेकर 8:30 बजे तक भी वैक्सीनेशन चला। इतना ही नहीं जिला गांव रोहेड़ा में 100 प्रतिशत के लक्ष्य को हासिल करने के लिए विभाग दिन रात एक किए हुए है।

खबरें और भी हैं...