पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Kaithal
  • Construction Material Did Not Reach Dera Gadla, RTGS Of Rs 14.32 Lakh Was Given To Ganesh Trading From Panchayat Account, It Was Revealed When The Message Came To The Sarpanch

पंचायती खाते में घालमेल:डेरा गदला में नहीं पहुंची निर्माण सामग्री, पंचायत खाते से गणेश ट्रेडिंग को करा दी 14.32 लाख रुपए की आरटीजीएस, सरपंच के पास मैसेज आया तो हुआ खुलासा

कैथल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैथल। पंचायत खाते से निकाली राशि को लेकर इकट्‌ठा हुए डेरा गदला के ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
कैथल। पंचायत खाते से निकाली राशि को लेकर इकट्‌ठा हुए डेरा गदला के ग्रामीण।
  • गांव की निवर्तमान सरपंच, पंचों व ग्रामीणों का आरोप- बीडीपीओ व ग्राम सचिव ने मिलीभगत कर खाते से निकाली राशि

डेरा गदला गांव की पंचायत के खाते से 2 दिन पहले 14.32 लाख रुपए की आरटीजीएस श्री गणेश ट्रेडिंग कंपनी को करा दी गई। निवर्तमान सरपंच के मोबाइल पर पेमेंट निकाले जाने का मैसेज आया तो इसका खुलासा हुआ। गांव की निवर्तमान सरपंच, सरपंच प्रतिनिधि व पंचों का आरोप है कि यह राशि बीडीपीओ व ग्राम सचिव ने मिलीभगत कर निकाली है। गांव में इस राशि से कोई भी विकास कार्य नहीं हुआ और न ही किसी विकास कार्य के लिए कोई निर्माण सामग्री पहुंची।

फिर इतनी भारी-भरकम राशि की श्री गणेश ट्रेडिंग कंपनी को पेमेंट किस काम के लिए की गई। पंचायत खाते से राशि निकाले जाने पर ग्रामीणों में रोष है। बुधवार को ग्रामीण इस मामले को लेकर गांव में एकत्रित हुए और फैसला लिया है कि गुरुवार को डीसी प्रदीप दहिया से मिलकर इस मामले में कार्रवाई की मांग करेंगे।

सरपंच प्रतिनिधि साहब सिह, पंच सुखदेव अन्य ग्रामीणों ने बताया कि गांव में ओपन जिम, पार्क में ट्रैक व एक विवाह-शादी के लिए शेड लगाया जाना है। वे लंबे समय से बीडीपीओ से मांग कर रहे हैं। अभी इनके निर्माण के लिए कोई निर्माण सामग्री नहीं पहुंची है। फिर भी बीडीपीओ व ग्राम सचिव ने 14,32,530 रुपए की पेमेंट किस कार्य के लिए श्री गणेश ट्रेडिंग कंपनी को की। सरपंच प्रतिनिधि ने बताया कि करीब डेढ़ महीने पहले भी बीडीपीओ ने पंचायत के खाते से दो लाख रुपए की राशि निकलवाई थी।

ये भी जानिए...खाते से पैसे निकलवाने की पावर अब बीडीपीओ व सचिव के पास
ग्राम पंचायत का बैंक खाता जाॅइंट होता है। इसमें गांव का सरपंच, ग्राम सचिव, बीडीपीओ शामिल होते हैं। कोई भी राशि निकलवाने के लिए तीनों के हस्ताक्षर होने जरूरी हैं। 23 फरवरी को पंचायतों का कार्यकाल पूरा होने के बाद सरपंच की इसमें भागेदारी या सहमति खत्म हो गई। अब बीडीपीओ व ग्राम सचिव ही पंचायत खाते से राशि निकाल सकते हैं या किसी को ट्रांसफर कर सकते हैं। हालांकि एक समय में कितनी राशि निकाली जा सकती है इसके लिए भी सरकार ने नियम तय किए हुए हैं।

जांच कर दोषियों पर हो कार्रवाई: वीरपाल कौर

डेरा गदला की निवर्तमान सरपंच वीरवार कौर ने कहा कि उनके मोबाइल पर पंचायत के बैंक खाते से 14.32 लाख रुपए की आरटीजीएस होने का 19 जुलाई को मैसेज आया था। इतनी राशि से गांव में कोई भी काम नहीं हुआ न ही किसी काम के लिए कोई निर्माण सामग्री पहुंची। इसके बाद भी इतनी राशि की आरटीजीएस बीडीपीओ व ग्राम सचिव ने किस लिए करवाई है। इसकी जांच कर दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए।

मामले का उन्हें पता नहीं है। पंचायत के खाते से ऐसे पैसे थोड़े निकलेंगे। कोई काम हुआ होगा तभी निकलेंगे। वे इस बारे ज्यादा कल बता सकते हैं आज बाहर हैं। - सुरेंद्र शर्मा, बीडीपीओ।

वे इस मामले को डीडीपीओ से चेक करवा रहे हैं। इसके बाद ही इस बारे में कुछ कहा जा सकता है। यदि कहीं गड़बड़ी हुई होगी तो फिर कार्रवाई भी की जाएगी।- प्रदीप दहिया, डीसी कैथल।

खबरें और भी हैं...