वीडियो कांफ्रेंसिंग:48 कोस की परिधि में 14 दिसंबर को तीर्थ स्थानों पर होगा दीपोत्सव, डीसी ने अधिकारियों को तैयारियों के आदेश दिए

कैथल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गीता जयंती महोत्सव के प्रदेश के नोडल अधिकारी विजय दहिया ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों के डीसी व संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि 12 से 14 दिसंबर तक मनाए जाने वाले गीता जयंती महोत्सव में सभी तैयारियां सुचारू रूप से पूरी होनी चाहिए। सभी वे तीर्थ जो 5 जिलों के अंतर्गत 48 कोस की परिधि में आते हैं। उन तीर्थ स्थलों पर दीपोत्सव मनाने की बेहतरीन तैयारियां होनी चाहिए।

वीसी में सूचना संपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक अमित अग्रवाल ने कहा कि गीता जयंती महोत्सव में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए। लोकल कलाकारों, चित्रकारों के साथ-साथ शिल्पकारों व संस्कृत के विद्वानों को भी शामिल कर लिया जाए तो और बेहतर रहेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ-साथ आध्यात्मिक व्यवस्था और मंच की साज-सज्जा, पंडाल इत्यादि की व्यवस्था भी सुचारू रूप से होनी चाहिए। जिला में 50 स्कूलों के कम से कम 50-50 बच्चों को ग्लोबल चैंटिंग के दृष्टिगत तैयार किया जाए।

डीसी ने गीता जयंती महोत्सव को सुचारू रूप से मनाने के लिए नोडल अधिकारी जिला परिषद के सीईओ सुरेश राविश को व्यवस्था करने के निर्देश दिए। जिला शिक्षा अधिकारी को ग्लोबल चैंटिंग के लिए संबंधित सभी स्कूलों के बच्चों को तैयार करने के आदेश दिए। पुलिस विभाग के अधिकारियों को सुरक्षा संबंधित तैयारियों विशेषकर शोभा यात्रा के दृष्टिगत सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद करने के निर्देश दिए। दीपोत्सव का कार्य 14 दिसंबर को 5 बजकर 30 मिनट पर किया जाएगा, जबकि ग्लोबल चैंटिंग 11 बजकर 45 मिनट से शुरू हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...