पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सफाई घोटाले में पहली कार्रवाई:20 करोड़ से ज्यादा के सफाई घोटाले में पंचायती राज विभाग के डायरेक्टर ने जेई को किया सस्पेंड

कैथल19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई ब्लॉकों में नालों व तालाबों की सफाई, वाटर रिचार्ज बोर लगाने के नाम पर जिप ग्रांट की करोड़ों की राशि हड़प गए थे अधिकारी-कर्मचारी

पूरे जिले में सामने आए सफाई घोटाले में कई माह के बाद पहली कार्रवाई हुई है। पंचायती राज विभाग के डायरेक्टर रमेश चंद्र बिढ़ाण ने पंचायती राज विभाग के जेई जसबीर सिंह को सस्पेंड कर दिया है। जेई का नाम भी जिला परिषद में सामने आए करोड़ों रुपए के सफाई घोटाले से जुड़ा हुआ था। हालांकि मामले की स्टेट विजिलेंस जांच की जा रही है।

पिछले दिनों विजिलेंस ने जिला परिषद से सफाई संबंधी पूरा रिकॉर्ड और वर्ष 2020 से लेकर अब तक हुए विकास कार्यों का पूरा लेखा जोखा मांगा था। इस घोटाले में जेई के अलावा कई और अधिकारी, जनप्रतिनिधि व अन्य लोगों की संलिप्तता के आरोप विधायक, जिला पार्षद समेत विभिन्न पार्टियों के नेता व संगठन लगा चुके हैं। घोटाले में कौन-कौन सम्मिलित हैं ये तो विजिलेंस जांच के बाद ही स्पष्ट होगा। लेकिन इस घोटाले की शुरुआत जांच में ही विभाग ने जेई पर कार्रवाई कर ये साफ कर दिया है कि सफाई के नाम पर जिले में घोटाला हुआ है।

खबरें और भी हैं...