पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धोखाधड़ी का शिकार:लॉटरी जीतने, फीस जमा करवाने जैसी बातों में फंसाकर की जा रही ठगी, 11 दिन में 6 केस

कैथल15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसपी के बार-बार एडवाइजरी जारी करने के बावजूद लोग हो रहे धोखाधड़ी का शिकार

जिले में ऑनलाइन धोखाधड़ी की वारदातें कम होने की बजाय बढ़ती जा रही है। एसपी द्वारा बार-बार एडवाइजरी जारी करने के बावजूद ऐसे वारदातों पर अंकुश नहीं लग रहा है। अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि 2021 में 11 जनवरी तक ही धोखाधड़ी कर रुपए ठगने के 6 केस दर्ज हुए हैं। औसतन हर दूसरे दिन कोई न कोई धोखाधड़ी का शिकार हो रहा है।

यह वो आंकड़ा हैं जो पीड़ित पुलिस के पास पहुंच जाते हैं और केस दर्ज होता है। धोखाधड़ी के बावजूद पुलिस के पास न पहुंचने वालों को इसमें जोड़ा जाए तो संख्या और बड़ी हो सकती है। जालसाज कभी खुद को बैंक कर्मी तो कभी कंपनी का कर्मचारी बनकर लोगों को ठग रहे हैं। अपनी बातों में ऐसा फंसाते है कि बैंक ग्राहक से ओटीपी पूछ ही लेते हैं। इस महीने में धोखाधड़ी के छह ऐसे केस दर्ज हुए हैं ।

पेटीएम वॉलेट में ट्रांसफर की राशि

कैथल निवासी योगेश ने पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया कि किसी ने उसके बैंक खाते से एक लाख 85 हजार रुपए निकाल लिए। पेटीएम व गूगल पे के माध्यम से उसकी राशि पेटीएम वॉलेट में ट्रांसफर की। किसी ने धोखाधड़ी कर उसके खाते से रुपए निकाले हैं। थाना सिविल लाइन पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ आईटी एक्ट व धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया है।

फीस जमा करवाने के बहाने ठगी

माता गेट कैथल निवासी आदित्य तंवर शहर के निजी स्कूल में क्लर्क है। अनजान व्यक्ति ने फोन करके कहा कि मेरा बच्चा आपके स्कूल में पढ़ता है जिसकी फीस जमा करवानी है। आरोपी ने कहा कि मुझे फोन पे एप्लीकेशन चलानी नहीं आती। आरोपी ने काफी देर बातचीत करने के बाद एक क्यूआर कोड भेजा। आदित्य ने जैसे ही कोड स्कैन किया तो उसके खाते से 28 हजार रुपए कट गए।

जीपीएस एक्टिवेट करने के नाम पर ठगी, ओटीपी बताते ही 16500 रुपए कटे

अमरगढ़ गामड़ी निवासी जयभगवान का आरोप है कि वह बोस कंपनी का ब्लैकबुक जीपीएस, फास्टैग, डीजल डलवाने के लिए इस्तेमाल करता है। 28 दिसंबर को उसके पास कॉल आई जिसने खुद को बोस कंपनी का कर्मचारी बताया। आरोपी ने कहा कि आपकी गाड़ी का जीपीएस बंद है। जीपीएस एक्टिवेट करने के लिए मोबाइल पर आया ओटीपी पूछा। ओटीपी बताते ही वायलेट से 16500 रुपए कट गए।

लॉटरी के नाम पर 2.40 लाख ठगे

प्योदा रोड कैथल निवासी संतोष साहा ने बताया कि उसके पास एक व्यक्ति ने कॉल करके कहा कि आपकी 25 लाख रुपए की लॉटरी निकली है। 25 लाख रुपए के साथ कंपनी की तरफ से गाड़ी भी मिलेगी। आरोपी ने खाते में 12 हजार रुपए जमा करवाने की बात कही। उसने 12 रुपए जमा करवा दिए, आरोपी ने फिर एक खाते में 30 हजार रुपए जमा करने के लिए बोला तो उसने रुपए जमा करवा दिए। आरोपी ने धीरे-धीरे उसके बैंक खाते की सारी जानकारी हासिल कर ली और 15 हजार रुपए निकाल लिए। आरोपी ने उससे कई बार में 2 लाख 40 हजार रुपए हड़प लिए।

रिश्तेदार का जानकार बता की ठगी

चंदाना गेट कैथल निवासी संजीव कुमार ने बताया कि शहर के ही बैंक में उसका खाता है। वर्मा कॉलोनी कैथल निवासी सुरेश कुमार उसका जानकार है। सुरेश ने उसे फोन करके कहा कि मैं रिश्तेदार को आपका नंबर दे रहा हूं, जिसका फोन आएगा।

वह रिश्तेदार आपके खाते में 25 हजार रुपए डालेगा। शाम चार बजे एक व्यक्ति की कॉल आई। फोन करने वाले ने कहा कि अपनी फोन-पे एप ओपन कीजिए। आरोपी जैसे बोलता रहा वह उसी तरह करता गया। दो-तीन मिनट बात हुई। आरोपी ने धोखाधड़ी कर उसके खाते से ही 99,997 रुपए निकाल लिए।

धोखाधड़ी से बचने के लिए एसपी ने बताए 10 तरीके

  • बैंक के एटीएम कक्ष से नकदी निकालते समय एटीएम कोड की किसी भी व्यक्ति को जानकारी न होने दें। एटीएम मशीन पर कोड लगाते समय अपने दूसरे हाथ द्वारा हाथ के ऊपर आड़ करके सुरक्षा कवच बनाएं ताकि कोई व्यक्ति कोड का अंदाजा ना लगा सके।
  • एटीएम कक्ष में किसी भी अपरिचित व अंजान व्यक्ति की कोई मदद न लेकर जागरुकता का परिचय देते हुए समुचित सावधानी बरतें।
  • एटीएम से पैसे निकालते समय उपभोक्ता ध्यान दें कि एटीएम मशीन पर कोई अतिरिक्त उपकरण या डिवाइस नहीं लगा हो।
  • अति आवश्यक होने पर किसी अंजान व्यक्ति से मदद न लेकर एटीएम पर तैनात बैंक कर्मचारी की ही सहायता लें। प्रयास करें की एटीएम से पैसे निकालते समय एटीएम कक्ष में आप अकेले मौजूद हों।
  • धोखाधड़ी से बचने के लिए उपभोक्ता अपने मोबाइल फोन पर आए ओटीपी नंबर को किसी भी व्यक्ति के साथ साझा न करें।
  • सभी डेबिट, क्रेडिट व एटीएम कार्ड धारकों व नेट बैंकिंग करने वाले ग्राहक अपना कार्ड किसी के हाथ में न दें। साथ ही खरीदारी के समय खुद के सामने ही कार्ड स्वाइप करें। पिनकोड खुद गुप्त तरीके से डालें तथा एसएमएस अलर्ट हमेशा चालू रखें।
  • उपभोक्ता अपनी ट्रांजेक्शन लिमिट कम रखे, ट्रांजेक्शन में कोई गड़बड़ी पर तुरंत बैंक को शिकायत दें।
  • समय-समय पर बैक स्टेटमेंट को चेक करते रहें।
  • कार्ड के जरिए पेमेंट सिर्फ एचटीटीपीएस वेबसाइट पर ही करें, इसके अलावा साइबर सिक्योरिटी चालू रखें।
  • कोई व्यक्ति मोबाइल पर कॉल करके खुद को बैंक कर्मचारी या अधिकारी बताकर बैंक खाते से संबंधित निजी जानकारी मांगे तो बातों में न आएं।

ऑनलाइन या एटीएम बूथ में धोखाधड़ी से बचने के लिए बार-बार एडवाइजरी जारी की जाती हैं। बैंक उपभोक्ताओं को जागरूक रहना चाहिए। कोई भी बैंक मोबाइल पर कॉल करके ओटीपी आदि नहीं मांगता। धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं तो तुरंत ही संबंधित बैंक के पास कॉल करके सूचना दें व पुलिस को शिकायत करें।

-लोकेंद्र सिंह, एसपी कैथल

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser