पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्कूल खुले:कल से स्कूल जा सकेंगे छठी से 8वीं तक के छात्र मेडिकल सर्टिफिकेट नहीं लाए तो नहीं मिलेगी एंट्री

कैथल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कैथल| कंगथली स्कूल में प्रवेश से पहले छात्राओं की थर्मल स्कैनिंग करते स्टाफ सदस्य। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
कैथल| कंगथली स्कूल में प्रवेश से पहले छात्राओं की थर्मल स्कैनिंग करते स्टाफ सदस्य। -फाइल फोटो
  • डीईईओ बोले- नियम पूरे करने पर ही खुलेंगे स्कूल सुबह 10 से दोपहर 1:30 बजे तक होगी पढ़ाई
  • प्राइवेट स्कूल संचालक बोले-मेडिकल की शर्त बेतुकी, इसी कारण 9वीं से 12वीं तक के सभी छात्र स्कूल नहीं पहुंच रहे

कोरोना के कारण 10 माह से बंद पड़े छठी से 8वीं कक्षाओं के लिए भी एक फरवरी से स्कूल खुल जाएंगे। सुबह 10 बजे से दोपहर 1:30 बजे तक पढ़ाई करवाई जाएगी। जिले में प्राइवेट व सरकारी स्कूलों के 56156 विद्यार्थियों को स्कूल खुलने से फायदा होगा और अब ऑनलाइन कक्षाओं के साथ साथ वे स्कूल जाकर भी पढ़ाई कर सकेंगे।

हालांकि 9वीं से 12वीं कक्षा की तरह ही छठी से 8वीं के विद्यार्थियों को भी नजदीकी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों से बना हुआ मेडिकल सर्टिफिकेट भी साथ लाना होगा। मेडिकल सर्टिफिकेट के बिना किसी भी विद्यार्थी को स्कूल में एंट्री नहीं दी जाएगी। बता दें कि मार्च 2020 से कोरोना के कारण सभी स्कूल बंद कर दिए गए थे। कोरोना के केसों में कमी आने के बाद 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए स्कूल पहले ही खोल दिए गए हैं और अब दोबारा से छठी से 8वीं के लिए भी स्कूल खुल रहे हैं। जल्द ही प्राइमरी स्कूल खोलने को लेकर भी सरकार गाइडलाइंस जारी कर सकती है।

सेनिटाइजेशन के लिए दी जा चुकी है राशि

स्कूल खुलने से पहले ही पहली से 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को सेनिटाइजेशन और थर्मल स्कैनर खरीदने के लिए राशि दी जा चुकी है। स्कूलों को विद्यार्थियों के लिए खोलने से पहले इंचार्ज को पूरे प्रागंण समेत सभी कक्षों का सेनिटाइजेशन करवाना होगा। मुख्य द्वार पर हर विद्यार्थी की थर्मल स्कैनिंग करने व मास्क नहीं होने पर मास्क देने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं। बच्चों को अभिभावकों की सहमति का पत्र भी साथ लाना होगा।

बेतुके आदेशों से प्रभावित हो रही पढ़ाई: जैन

प्राइवेट स्कूल्स वेलफेयर एसोसिएशन के राज्य सचिव वरुण जैन व जिला चेयरमैन बलिंद्र संधू ने कहा कि स्कूल खोलने को लेकर बेतुके आदेशों की वजह से पढ़ाई प्रभावित हो रही है। हाई और सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में भी इन शर्तों के कारण 100 प्रतिशत विद्यार्थी नहीं पहुंच पा रहे हैं। डॉक्टर बिना कोविड की जांच के मेडिकल सर्टिफिकेट देने को तैयार नहीं और अभिभावक कोविड की जांच करवाने के लिए। शिक्षकों के लिए एक ही समय पर ऑनलाइन व ऑफलाइन पढ़ाई करवाना संभव नहीं है। पंजाब में एक फरवरी से प्री प्राइमरी स्कूल भी खोले जा रहे हैं। सरकार की गाइडलाइंस की वजह से प्रदेश के विद्यार्थी पढ़ाई में पिछड़ रहे हैं।

सरकार की गाइडलाइंस के साथ ही एक फरवरी से छठी से 8वीं कक्षा के स्कूल खोले जा रहे हैं, लेकिन उसके बावजूद ऑनलाइन मोड से भी पढ़ाई जारी रहेगी। ताकि जो अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजना चाहते हैं उनकी पढ़ाई प्रभावित न हो। मेडिकल सर्टिफिकेट के बिना एंट्री नहीं दी जाएगी और किसी को भी नियमों में छूट नहीं दी जाएगी।
दलीप सिंह, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें