डीसी ने बताया:170 गांवों में गिरा भू-जल स्तर, कई जगह पर 20 मीटर से भी नीचे पहुंचा वाटर लेवल

कैथल5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों के साथ गिरते भूजल को लेकर बैठक करते डीसी प्रदीप दहिया। - Dainik Bhaskar
अधिकारियों के साथ गिरते भूजल को लेकर बैठक करते डीसी प्रदीप दहिया।
  • गिरते भूजल स्तर को ऊपर लाने के लिए बनाया जाएगा विशेष प्लान

डीसी प्रदीप दहिया ने कहा कि जिले के लगभग 170 गांवों में भूजल का स्तर नीचे जा रहा है, जोकि गंभीर विषय है। कई स्थानों पर वाटर लेवल 20 मीटर से नीचे चला गया है। भूजल स्तर को सुधारने के लिए जिला वाटर रिसोर्स प्लानिंग कमेटी का गठन कर दिया है, जो गिरते भूजल को ऊपर लाने के लिए विशेष प्लान बनाएगी। सूक्ष्म सिंचाई, सीधी बिजाई, बरसात के पानी का संचय, बौरवेल आदि व्यवस्थाओं से वाटर लेवल को ऊपर लाया जाएगा, ताकि आने वाली पीढ़ी को किसी प्रकार की दिक्कत न हो।

डीसी प्रदीप दहिया शुक्रवार को लघु सचिवालय के वीसी रूम में जिला वाटर रिसोर्स प्लानिंग कमेटी से जुड़े अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। इससे पहले हरियाणा वॉटर रिसोर्स अथॉरिटी की चेयरपर्सन केसनी आनंद अरोड़ा ने जिला में गिरते भूजल स्तर को दुरूस्त करने के प्लान पर विस्तार पूर्वक चर्चा की। डीसी प्रदीप दहिया ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस प्लान में कार्य करने वाले इंजीनियर्स को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा और एक रूप रेखा बनाकर कार्य किया जाएगा, ताकि सारा प्लान समूचित ढंग से चले और हमारे जिले के वॉटर लेवल में सुधार हो।

डीसी की अध्यक्षता में कमेटी गठित : उन्होंने बताया कि डीसी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की गई है। जिसके एडीसी, जन स्वास्थ्य विभाग के अधीक्षक अभियंता, नगर परिषद प्रतिनिधि, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग प्रतिनिधि सदस्य होंगे और सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता सदस्य सचिव होंगे। इसके साथ-साथ दो नॉन ऑफिशियल सदस्य भी बनाए जाएंगे, जोकि इस कार्य में पूरा सहयोग करें। उन्होंने आमजन से भी आह्वान किया कि जल संचय के कार्य में अपना सकारात्मक सहयोग दें।

मौके पर जिप सीईओ सुरेश राविश, डीएमसी कुलधीर सिंह, अधीक्षक अभियंता जितेंद्र गौस्वामी, डीडीपीओ कंवर धवन, डीडीए डॉ. कर्मचंद, ईओ कुलदीप सिंह, कार्यकारी अभियंता हिमांशु लाटका समेत अन्य मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...