पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी की वारदात:गृहमंत्री अनिल विज का ड्राइवर बताकर विवाहिता से नौकरी लगवाने के नाम पर, तीन लाख रुपए ठगे

कैथल25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजेंद्र ने बताया कि वह और उसका ग्रुप नौकरी लगवाने का काम करता है

खुद को गृहमंत्री का ड्राइवर बताकर जालसाज ने गांव सिरसल निवासी विवाहिता से तीन लाख रुपए ठग लिए। आरोपी ने महिला को मंत्री कोटा में सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा दिया था। रुपए हड़पने के बाद मोबाइल नंबर बदल लिया। बाद में आरोपी की पहचान लाडवा के पास गांव बापोघा निवासी राजेंद्र के तौर पर हुई। कुरुक्षेत्र में सलारपुर रोड पर किराए के मकान में रहता है। गांव सिरसल निवासी मीना ने पुलिस को शिकायत दी कि अक्टूबर 2019 में किसी सहेली के माध्यम से राजेंद्र नाम के लड़के से उसकी मोबाइल पर बातचीत हुई।

राजेंद्र ने बताया कि वह और उसका ग्रुप नौकरी लगवाने का काम करता है। आरोपी ने खुद को गृहमंत्री अनिल विज का ड्राइवर बताया और कहा कि वे रुपए लेकर मंत्री कोटे की पोस्ट पर भर्ती करवाते हैं। आरोपी ने उसे अपनी बहन भी बना लिया और घर पर भी आया। मीना का आरोप है कि उसने राजेंद्र को अपने पति से भी मिलवाया। इसके बाद टैक्ससेशन डिपार्टमेंट में क्लर्क लगवाने के नाम पर छह लाख रुपए में बात हुई। जिसकी आधी रकम तीन लाख रुपए नौकरी लगने से पहले व तीन लाख रुपए नौकरी लगने के बाद देने तय हुए। विवाहिता का आरोप है कि उसके पति प्राइवेट स्कूल में टीचर हैं। उन्हें सरकारी नौकरी की जरूरत थी। तीन नवंबर 2019 को राजेंद्र उनके घर से तीन लाख रुपए नकद लेकर गया। उसके बाद मोबाइल पर बातचीत होती रहती थी। छह महीने बाद भी नौकरी नहीं दिलवाई और लॉकडाउन का बहाना बनाया। आरोपी ने कहा कि उसका जानकार कुरुक्षेत्र में रहता है। उसी के माध्यम से उसने सही हाथों में रुपए दिए हैं।

खबरें और भी हैं...