निर्माण कार्यों में तेजी:बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए डीसी ने दिए तैयारियां पूरी करने के आदेश

कैथल13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाढ़ की तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक लेते डीसी प्रदीप दहिया। - Dainik Bhaskar
बाढ़ की तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक लेते डीसी प्रदीप दहिया।
  • डीसी ने लघु सचिवालय के सभागार में बाढ़ संभावित क्षेत्रों में चल रहे कार्यों की जानकारी ली

डीसी प्रदीप दहिया ने कहा कि बाढ़ संभावित क्षेत्रों में बाढ़ सुरक्षा के दृष्टिगत चल रहे विकास कार्यों को समय रहते पूरा कर लें। बाढ़ सुरक्षा के दृष्टिगत जिला के विभिन्न बाढ़ संभावित क्षेत्रों में जो बड़े प्रोजेक्ट चल रहे हैं उनको जल्द पूरा कर लिया जाए। जो प्रोजेक्ट पाइपलाइन में उनको समय से पहले पूरा कर लिया जाए। यदि किसी प्रोजेक्ट को लेकर तकनीकी खामियां है तो उसे मुख्यालय से संपर्क करके पूरा करवा लिया जाए। ताकि समय से संबंधित कार्य सुचारू रूप से पूरे हो सकें।

डीसी प्रदीप दहिया लघु सचिवालय स्थित सभागार में बाढ़ संभावित क्षेत्रों में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ले रहे थे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि बाढ़ संभावित क्षेत्रों में चल रहे विकास कार्यों को और तेज गति देकर जल्द पूरा करें। सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता जितेंद्र गोस्वामी द्वारा तैयार सर्कल वाइज स्कीम को स्क्रीन पर बिंदुवार देखते हुए कहा कि गुहला-चीका, राजौंद, ढांड, कलायत, कैथल, पाडला, गुहला समेत संबंधित क्षेत्रों में जहां भी संभावित बाढ़ क्षेत्र हैं तुरंत प्रभाव से कार्यों को पूरा किया जाए।

ड्रेनों की व्यवस्था सुचारू रूप से होनी चाहिए। जिन ड्रेनों और रजबाहों की पुलिया टूटी हुई हैं वे भी पूरी तरह से व्यवस्थित होनी चाहिए। डीसी ने बैठक में सिंचाई विभाग द्वारा कार्य रूप में परिणत की जाने वाले करोड़ों रुपये की स्कीमों की जानकारी ली तथा इसके अलावा अटल भूजल योजना के तहत गुहला और राजौंद खंडों में विकास कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए। इसके अलावा हरिपुरा और डीग में बरसाती पानी निकास के लिए किए जाने वाले कार्यों की भी समीक्षा की तथा कहा कि सभी कार्य सुचारू रूप से प्राथमिकता के आधार पर पूरे किए जाएं। मौके पर एसडीएम गुहला नवीन कुमार, एसडीएम कलायत विरेंद्र ढुल मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...