वामपंथी पार्टियों का प्रदर्शन:लखीमपुर हत्याकांड के विरोध में वामपंथी पार्टियों ने सचिवालय के बाहर किया प्रदर्शन

कैथल15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लखीमपुर हत्याकांड को लेकर प्रदर्शन करते वामपंथी दलों के वर्कर। - Dainik Bhaskar
लखीमपुर हत्याकांड को लेकर प्रदर्शन करते वामपंथी दलों के वर्कर।

लखीमपुर खीरी (उत्तर प्रदेश) में किसानों पर गाड़ी चढ़ाकर भाजपा के अजय मिश्रा, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे व अन्य असामाजिक तत्वों द्वारा की गई हत्या के विरोध में तथा हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के विवादित बयान के खिलाफ प्रदेश की तीन वामपंथी पार्टियों माकपा, भाकपा व भाकपा माले ने अलग अलग जगहों पर अपनी इकाइयों को विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया था।

आज इस आह्वान की कड़ी में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) व भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की संयुक्त इकाई कैथल के नेतृत्व में हनुमान वाटिका में इक_े होकर लघु सचिवालय तक प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों की अध्यक्षता महेंद्र सिंह थेह नेवल ने की, जबकि संचालन प्रेम चंद ने किया।

प्रदर्शनकारियों को भाकपा नेता महेंद्र सिंह बरोट, सीपीआईएम कैथल जिला कमेटी सदस्य करतार सिंह , अशोक शर्मा, जयप्रकाश शास्त्री, सतपाल आनंद, प्रेम चंद व महेंद्र सिंह ने संबोधित किया। कृष्णा एडवोकेट, शर्मिला ,जसपाल सिंह चीका ,जयपाल फौजी ने भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा तीन अक्टूबर को लखीमपुर उत्तर प्रदेश में हुई किसानों की बर्बर हत्या दिल को दहलाने वाली बड़ी घटना थी।

इसी दौरान हरियाणा के मुख्य मंत्री की भी एक वीडियो वायरल हुई है। जिसे सुनकर लोग स्तब्ध है। संवैधानिक पद पर बैठ कर ऐसे बोलना एक तो मुख्यमंत्री के पद की गरिमा के खिलाफ़ है। यह कतई बर्दाश्त करने योग्य नही है। रोष स्वरूप लघु सचिवालय प्रांगण के बाहर मनाेहर लाल लाल खट्टर का लोगों द्वारा पुतला दहन किया गया और नारेबाजी की गई। बाद में तहसीलदार कैथल को ज्ञापन राज्यपाल हरियाणा के नाम दिया गया।

खबरें और भी हैं...