पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन में जिले ने लगाई छलांग:2 दिन में 41 हजार से ज्यादा को लगा टीका, प्रदेश में 16वें स्थान पर कैथल

कैथल3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैथल| बुजुर्ग महिला को वैक्सीन लगाती स्वास्थ्य कर्मी। - Dainik Bhaskar
कैथल| बुजुर्ग महिला को वैक्सीन लगाती स्वास्थ्य कर्मी।
  • वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में उत्साह, 3 दिन के मेगा वैक्सीनेशन अभियान में 60 हजार से ज्यादा को वैक्सीन लगने की उम्मीद

जिला में वैक्सीन लगवाने को लेकर लोगों में अब खासा उत्साह है। दो दिन में ही जिले में 41 हजार से ज्यादा लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं। इसका परिणाम यह है कि जहां अब तक प्रदेश में सबसे फिसड्डी माने जाने वाला कैथल जिला अब कई जिलों को पीछे छोड़ चुका है। अगस्त माह की शुरुआत में वैक्सीनेशन के मामले में कैथल जिला 19वें स्थान पर था। लेकिन अब 16वें स्थान पर पहुंच गया है।

कैथल जिला से अब चरखी दादरी, नूंह, फतेहाबाद, जींद, पंचकूला व पलवल शामिल हैं। जिले में पिछले 3 दिन से चल रहे मेगा वैक्सीनेशन अभियान से जिला प्रदेश में वैक्सीनेशन रैंकिंग में और सुधार करेगा। क्योंकि जिले के लोग अब वैक्सीन लगवाने के लिए घरों से निकल रहे हैं। 3 दिन में 60 हजार से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगने की उम्मीद है। सोमवार को पहले दिन 20 हजार 514 लोगों ने वैक्सीन लगवाई थी। इसी तरह से मंगलवार को भी 21 हजार से ज्यादा लोगों ने टीका लगवाया है।

कोरोना का कोई केस नहीं मिला
मंगलवार को भी जिला में कोरोना का कोई नया केस नहीं आया है। जिले में अब भी कोरोना एक्टिव केसों की संख्या 3 है। जिले में अब तक 11 हजार 232 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। जबकि 345 लोगों की कोरोना संक्रमण से जान जा चुकी है।

वैक्सीनेशन के अब तक के आंकड़े

  • 6,12,412 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा चुका है।
  • 4,79,851 व्यक्तियों को पहली डोज लग चुकी है।
  • 1,32,561 व्यक्तियों को दूसरी डोज लग चुकी है।
  • 13 हजार 83 हेल्थ केयर वर्कर्स, 10,620 फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लग चुकी है।
  • 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के 3,14,952 व्यक्तियों को वैक्सीन लग चुकी है।
  • 45 वर्ष आयु वर्ग से ऊपर के 2,73,757 व्यक्तियों को वैक्सीन लग चुकी है।

जिला में पिछले कई दिन से वैक्सीनेशन अभियान ने तेजी पकड़ी है। लोग अब वैक्सीन लगवाने के लिए खुद आगे आ रहे हैं। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में इसी तरह से वैक्सीनेशन की रफ्तार बनी रहेगी।-प्रदीप दहिया, डीसी कैथल।

खबरें और भी हैं...