पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का मामला:मां-बेटे ने हुडा सेक्टर की जमीन अपनी बताकर बेची, धोखाधड़ी का केस दर्ज

कैथल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जमीन वर्षों पहले सेक्टर में हो चुकी थी एक्वायर

हुडा विभाग की जमीन को अपनी बताकर बेचने के आरोप में थाना शहर पुलिस ने पंजाब निवासी मां-बेटे के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपियों ने सेक्टर में एक्वायर हो चुकी जमीन भी अपनी बताकर बेच दी थी। गांव कोटड़ा निवासी सत्येंद्र ने पुलिस को शिकायत दी कि अम्बाला रोड कैथल निवासी मोहित शर्मा के साथ उसकी जान पहचान है। मोहित ने वर्ष 2012 में कहा कि अम्बाला रोड पर हुडा सेक्टर-21 वाली सड़क की तरफ एक प्लॉट बिकाऊ है।

सत्येंद्र का आरोप है कि उसने उस जगह पर मकान बनाने के लिए प्लॉट खरीदने की सोची। मोहित ने उसे अपने मकान पर पंजाब के खन्ना निवासी बल्ली से मिलवाया। जिसने उसे रजिस्ट्री के साथ लगे नक्शा अनुसार एक प्लॉट की तरफ इशारा करके उसे खुद का बताया। उसने 244.39 वर्ग गज प्लॉट का आठ लाख रुपए में बल्ली व उसकी मां उषा रानी के साथ सौदा कर लिया। बल्ली व उषा रानी ने तहसील में उससे 7 लाख 75 हजार रुपए नकद लिए।

रुपए लेने के बाद उषा ने 12 अक्टूबर 2012 को उसकी पत्नी के नाम तहसीलदार कैथल के सामने रजिस्ट्री करवा दिया। खाली जगह को अपना बताकर उस जगह पर कब्जा भी दे दिया। कुछ समय बाद उसे पता चला कि जो जमीन उसे बेची गई वह तो 2005 में हुडा विभाग द्वारा सेक्टर-21 के लिए एक्वायर की जा चुकी है। जिस का उषा रानी व उसके बेटे बल्ली को पता था। 244.39 वर्ग गज में से हुडा 244.39 वर्ग गज एक्वायर कर चुका है।

अब 90 वर्ग गज जमीन ही बचती है। आरोपी पंजाब के खन्ना निवासी रहने वाले हैं, लेकिन उन्होंने जमीन बेचते समय अपना नाम पता खन्ना पंजाब के स्थान पर कोठी गेट कैथल लिखवाया था। आरोपियों ने धोखाधड़ी करके सरकारी जमीन को अपनी बताकर उससे रुपए हड़पे हैं। शहर थाना एसएचओ शिवकुमार ने बताया कि अज्ञात के आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी कर रुपए हड़पने का केस दर्ज कर लिया।

खबरें और भी हैं...