कार्रवाई के आदेश / अवैध निर्माण करने वालों पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कैथल. शहर में अवैध कॉलोनियां पिछले लंबे अरसे से पनप रही हैं। जिसके चलते शहर के मास्टर प्लान को भी फलीता लग रहा है। हालांकि कुछ माह पहले इन्हें लेकर नगर योजनाकार विभाग ने कुछ सख्ती दिखाई थी। लेकिन इसी बीच जहां डीटीपी का तबादला हो गया। वहीं लॉकडाउन शुरू हो गया। अब खुद डीसी धीरेंद्र खड़गटा इन कॉलोनियों को लेकर सख्त हुए हैं। गुरुवार को डीसी ने पिपली रोड पर औचक निरीक्षण किया। यहां अवैध कॉलोनियों में निर्माण होते हुए देखा। 

डीसी बोले- अब होगी एफआईआर दर्जः नहीं दें कोई सुविधा: पिपली रोड पर नए बस स्टैंड के सामने दोनों काॅलोनियों के जमीन मालिकों के खिलाफ जिला योजनाकार अधिकारी शीघ्र एफआईआर दर्ज करेगा। इसके लिए डीटीपी को एफआईआर दर्ज करने निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं सभी विभागों के एचओडी को भी निर्देश दिए हैं कि अवैध काॅलोनी और निर्माण कार्य के लिए पीने का पानी, सीवरेज, सड़क और बिजली कनेक्शन जारी न करें, अगर किसी भी विभागीय अधिकारी ने लापरवाही बरती तो उसके खिलाफ भी नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 

अर्थमूविंग मशीन चला तोड़े निर्माण

डीसी के आदेशों के तुरंत बाद जिला योजनाकार अधिकारी सतीश कुमार पूनिया ने दोनों काॅलोनियों में अवैध निर्माण कार्यों को अर्थमूविंग मशीन लगाकर ध्वस्त कर दिया है। टीम ने अर्थमूविंग मशीन लेकर नए बस स्टैंड के सामने दोनों काॅलोनियों में डाले गए सीवरेज, पानी के कनेक्शन और अन्य अवैध निर्माण कार्यों को तोड़ दिया। इसकी रिपोर्ट तुरंत प्रभाव से डीसी को सौंपी।

एनओसी दी, तो पहले अफसर पर कार्रवाई: डीसी ने जिला योजनाकार अधिकारी की रिपोर्ट की फीडबैक मिलने के उपरांत सबसे पहले सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोई भी अधिकारी अवैध काॅलोनियों और निर्माण कार्यों के लिए पीने का पानी, बिजली, सीवरेज, सड़क निर्माण कार्य के लिए अनुमति नहीं देगा और न ही एनओसी जारी करेगा। जो भी अधिकारी अवैध काॅलोनियों में किसी प्रकार की अनुमति देगा तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ सबसे पहले कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने शहर के लोगों से भी अपील की है कि अवैध काॅलोनियों में जमीन खरीदने से गुरेज करें, केवल अप्रूव काॅलोनियों में ही जमीन लेकर मकान बनाए। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना