पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

दिशा-निर्देश:ग्राम सभाओं में कैलेंडर बांटकर योजनाओं का करें प्रचार, लिंगानुपात में होगा सुधार : डीसी

कैथलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी अन्य विभागों के साथ तालमेल करके सरकार द्वारा चलाई जा रही नीतियों का क्रियान्वयन सही प्रकार से करें। विभाग द्वारा पोषण अभियान चलाया जा रहा है, रोस्टर अनुसार कार्यक्रम किए जाएं ताकि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा जागरूक किया जा सके। यह बात गुरुवार को डीसी सुजान सिंह महिला एवं बाल विकास द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को कही। इस मौके पर उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे।

उन्होंने कहा कि पोषण अभियान का कोविड-19 के अंतर्गत प्रचार-प्रसार इलेक्ट्राॅनिक मीडिया, प्रिंट व सोशल मीडिया के माध्यमों से करवाया जाए। जिला में चल रही 1270 आंगनबाड़ी में कैलेंडरों के माध्यम से जागरूक किया जाए तथा सभी ग्राम पंचायतों में भी ग्राम सभाओं में कैलेंडर वितरित किए जाएं। उपायुक्त ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की समीक्षा करते हुए कहा कि वे इस योजना पर गंभीरता से कार्य करना सुनिश्चित करें ताकि लाभार्थियों को पूरा लाभ मिल सके। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कहा कि वे इस अभियान के तहत अगर किसी व्यक्ति की शिकायत लिंग निर्धारण से संबंधित आती है तो वहां पर रेड करना सुनिश्चित करें ताकि लिंगानुपात में सुधार लाया जा सके और इस कार्य में कोई भी कोताही न बरतें।

इस कार्य को करने के लिए कोविड-19 का कोई भी बहाना नहीं चलेगा और स्वास्थ्य विभाग ज्यादा से ज्यादा रेड करें। उन्होंने कहा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत कुआं पूजन, रैलियां, पोक्सो एक्ट कैंप, फिल्म शो, नुक्कड़, प्रभातफेरियां, बेटी उत्सव एवं जन्मदिवस विषय पर कार्यक्रम किए जाते रहे हैं और आगे भी कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए कार्य करें। इससे लिंगानुपात का आंकड़ा सुधार होगा।

21401 महिलाओं को मिला मातृत्व वंदना योजना का लाभ

उन्होंने प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को पहले जीवित बच्चा होने पर 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाती है। जिला कैथल में जनवरी 2017 से अगस्त 2020 तक 21 हजार 401 गर्भवती महिलाओं का लाभ दिया जा चुका है। उन्होंने वन स्टॉप सेंटर की समीक्षा करते हुए कहा कि इस सेंटर में लड़कियों व महिलाओं को बिना किसी जातीय, नस्लीय व क्षेत्रीय आदि भेदभाव के बिना सार्वजनिक व निजी स्थान पर उन पर होने वाले सभी प्रकार की हिंसाओं से पीड़ित महिलाओं को पुलिस सहायता, चिकित्सीय सुविधा विधिक एवं मनोवैज्ञानिक परामर्श, वीडियो कांफ्रेंस के साथ-साथ 5 दिन का नि:शुल्क आश्रम की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है।

पीड़ित महिला वन स्टॉप सेंटर में स्वयं किसी संस्था या 181 की सहायता से कभी भी संपर्क कर सकती है। एमआईटीसी रोड पर पर यह सेंटर चलाया जा रहा है, जिसमें सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। गत 31 अगस्त 2020 तक 148 मामले पंजीकृत किए जा चुके हैं। उन्होंने स्थाई बिल्डिंग बनाने की प्रक्रिया पर तेजी लाते हुए मुख्यालय से तालमेल करके जल्द पूरा करवाएं। इस मौके पर सीएमजीजीए पांखुरी गुप्ता, जिला शिक्षा अधिकारी शमशेर सिराही, कार्यक्रम अधिकारी ऊषा मुआल, डीएसओ राज यादव, डॉ. गौरव पुनिया, सीडीपीओ कमलेश गर्ग, रामरती व सुमित्रा लाठर आदि मौजूद रहीं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें