पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Kaithal
  • Questions Are Being Raised On The Cleanliness Fortnight Of The City Council, Now The Ward 5 Councilor Has Made Allegations, Only One Cleaning Worker On 8000 Population

ये कैसा स्वच्छता पखवाड़ा:नगर परिषद के स्वच्छता पखवाड़ा पर उठ रहे प्रश्न, अब वार्ड 5 के पार्षद ने लगाए आरोप, 8 हजार जनंसख्या पर मात्र एक सफाई कर्मी

कैथल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर परिषद के स्वच्छता पखवाड़ा पर प्रश्न उठा रहे हैं। अब वार्ड 5 के पार्षद संजय भौरिया ने बताया कि उनके वार्ड में सफाई और उठान व्यवस्था ठीक नहीं है। वार्ड की करीब 8 हजार जनंसख्या है लेकिन मात्र 1 महिला सफाई कर्मी यहां तैनात है। जबकि 2 माह से डोर-टू डोर कचरा उठान का कार्य बंद है। उन्होंने आरोप लगाया कि एजेंसी प्रति घर 50 रुपए मांगती है।

अगर पब्लिक राशि नहीं देती तो एजेंसी काम बंद कर देती है। लोगों को खाली प्लाॅटों में कचरा डालना पड़ता है। जब नगर परिषद एजेंसी को प्रति माह 15 लाख रुपए दे रही है तो पब्लिक से 50 रुपए प्रति घर लेने की आवश्यकता क्या है। उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्होंने ईओ को भी लिखित में कहा है कि यह राशि घरों से लेनी बंद करनी चाहिए। जबकि एजेंसी का कहना है कि वार्ड 5 में एक टिपर हर रोज डोर-टू डोर कचरा उठान के लिए जाता है।

यहां-यहां नहीं होता डोर टू डोर उठान

पार्षद संजय ने बताया कि उनके वार्ड की डीएवी कॉलोनी, देवबन वाली कॉलोनी, राधा-स्वामी कॉलोनी, पंजाबी बाग कॉलोनी, खुराना रोड, लक्ष्मी विहार कॉलोनी, हेरिटेज स्कूल वाली गली और सेक्टर-21 में डोर-टू डोर कचरा उठान का कार्य नहीं होता है।

पुलिया तोड़ी, अब निर्माण को कोई तैयार नहीं

वार्ड 19 के पार्षद प्रवीण शर्मा ने बताया कि उनके वार्ड में करीब 10 दिन पहले एक बंद नाले को खोलने के लिए पुलिया को तोड़ दिया गया था। नाला तो साफ हो गया, लेकिन लोगों को आने जाने में परेशानी हो रही है। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को कहा लेकिन सिर्फ आश्वासन मिला।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें