पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गिरफ्तार:31 साल पहले 30 रुपए चोरी करने वाला आरोपी गिरफ्तार, 25 साल से था भगोड़ा

कैथल16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 3 दिसंबर 1990 को क्योड़क बस अड्डे पर काटी थी कर्म सिंह की जेब

थाना सदर प्रभारी सबइंस्पेक्टर रमेश चंद्र की अगुवाई में पुलिस ने करीब 31 साल पहले बस स्टैंड पर खड़े व्यक्ति की जेबतराशी कर 30 रुपए चुराने के मामले में वांछित आरोपी को गिरफ्तार किया है। जो कोर्ट से जमानत लेकर भूमिगत हो गया था। आरोपी को 25 साल पहले पीओ घोषित कर दिया था। एसपी लोकेंद्र सिंह ने बताया कि गांव जसवंती निवासी कर्मसिंह 3 दिसंबर 1990 को कहीं जाने के लिए क्योड़क बस अड्डे पर मौजूद था। जहां एक व्यक्ति ने उसकी जेब काटकर 30 रुपए चोरी कर लिए।

3 दिसंबर को थाना सदर में केस दर्ज करके आरोपी सुभाष निवासी धरौदी जिला जींद को चोरी के आरोप में उसी दिन थाना सदर पुलिस ने गिरफ्तार कर आरोपी के कब्जे से चोरी की नकदी बरामद कर ली थी। जिसने पूछताछ के दौरान कबूला कि नशे का आदि होने कारण वह नशे की पूर्ति करने के लिए वारदात को अंजाम दे बैठा था। जांच के बाद के कोर्ट के आदेश पर आरोपी को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। बाद में आरोपी सुभाष अदालत से जमानत हासिल करने भूमिगत हो गया था। जिसे जेएमआईसी कैथल बशेसर वर्मा की अदालत द्वारा 16 सितंबर 1996 को पीओ करार दे दिया गया था। एसपी ने बताया कि थाना प्रबंधक सदर सबइंस्पेक्टर रमेश चंद्र की अगुवाई में एएसआई अशोक कुमार की टीम ने मंगलवार 13 जुलाई को गुप्त सूचना मिलने पर सोरगर बस्ती जींद में रेड करके 52 वर्षीय वांछित भगौड़े आरोपी सुभाष निवासी धरौदी को वारदात के करीब 31 साल बाद गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...