• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Kaithal
  • The Graph Of Vaccination Has Increased In The District, If There Is Cooperation Of The General Public, Then All The Children Of The District Will Be Vaccinated Soon.

डीसी बोले:जिले में वैक्सीनेशन का ग्राफ बढ़ा, आमजन का सहयोग रहे तो जिले के सभी बच्चे जल्द वैक्सीनेट हो जाएंगे

कैथल11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डीसी प्रदीप दहिया ने कहा कि जिला प्रशासन वैक्सीनेशन को लेकर सजगता और सतर्कता से काम रहा है। वैक्सीनेशन का ग्राफ भी बढ़ा है। प्रशासन के साथ-साथ गांव और शहर के असरदार और जिम्मेदार लोग भी सामने आ रहे हैं। वैक्सीन के प्रति युवाओं में भारी जोश है। आने वाले समय में शीघ्र ही समूचा जिला वैक्सीनेट हो जाएगा। इस विषय को लेकर सभी को गंभीरता से काम करने की जरूरत है। डीसी शुक्रवार को कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे।

बैठक में सीएमओ जयंत आहुजा, डॉ. नीरज मंगला, जिला शिक्षा अधिकारी अनिल शर्मा सहित कई अधिकारी उपस्थित थे। डीसी ने बैठक में कहा कि प्रशासन सरकार द्वारा जारी निर्देशों की अनुपालना में टीकाकरण के प्रति तेजी से अपने कदम बढ़ा रहा है। युवाओं में पूरा जोश है। युवाओं द्वारा पंजीकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के सभी बच्चों को कोरोना से बचाव की वैक्सीन लगानी बहुत ही कारगर और जरूरी है।

इस विषय को लेकर युवाओं के साथ-साथ असरदार लोगों और महिलाओं को भी आगे आकर काम करने की जरूरत है। बदलते परिवेश में देखा जाए तो टीकाकरण के दृष्टिगत जिला सम्मानजनक स्थिति में है। इसमें और तेजी लाने की जरूरत है इसलिए सभी अधिकारी टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक करें।

डीसी बोले-बच्चे व बुजुर्ग जरूर लगवाएं कोरोना टीका
जिला प्रशासन के प्रयास और आमजन के सहयोग से वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से किया जा रहा है। इसमें और तेजी लाने के लिए लोगों की दहलीज और दरवाजे तक जागरुकता अभियान पहुंचना चाहिए। तभी टीकाकरण की व्यवस्था और बेहतर ढंग से कार्य रूप में परिणत हो सकेगी। उन्होंने यह भी कहा कि दो गज की दूरी और मास्क जरूरी, प्रशासन का प्रयास और जनता का सहयोग कोरोना और ओमिक्राॅन जैसी महामारी को धराशाई करने में सफल होगा।

इस विषय को लेकर और अधिक तेजी से कार्य करने की जरूरत है। डीसी ने कहा कि हम सबके साझे प्रयास से कोरोना महामारी को धराशाई करने में सफल होंगे। बस जरूरत इस बात की है कि एक टीम की भांति और बेहतरीन ढंग से काम किया जाए। परिवार को सुरक्षित रखने के लिए बुजुर्गों और बच्चों को भी वैक्सीनेट करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि 15 से 18 साल के बच्चों को वैक्सीन लगाने का काम जारी है।

खबरें और भी हैं...