पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीकाकरण अभियान:पशुपालन विभाग कल से चलाएगा गलघोटू टीकाकरण अभियान, पशुओं को लगाए टीके

कलायत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पशुपालक के पशुओं को बीमारी से बचाने के लिए पशुपालन विभाग द्वारा अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए विभाग ने ठोस कार्ययोजना तय की है। अभियान को गतिमान करने के लिए विभाग द्वारा कलायत क्षेत्र में पांच टीमें गठित की गई। पशुपालन विभाग एसडीओ डाॅ. चरणजीत आर्य और वेटनरी सर्जन डाॅ. पवन बूरा ने बताया कि पशुओं में गलघोटू और दूसरी बीमारियों की रोकथाम के लिए पशुओं को घर-घर जाकर टीके लगाने का अभियान शुरू किया जाएगा।

इसके लिए 3 दिसंबर से कलायत क्षेत्र के गांव-गांव जाकर टीम पशुओं का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गलघोटू पशुओं में होने वाली बेहद खतरनाक बीमारी है। अगर समय रहते बीमारी की रोकथाम न की जाए तो इससे पशु की जान भी जा सकती है। इस बीमारी से ग्रस्त पशु की 24 घंटों में मौत भी हो सकती है इसलिए गलघोटू बीमारी के प्रति पशुपालकों को सचेत रहना बहुत जरूरी है। सिर्फ टीकाकरण से ही बीमारी की रोकथाम की जा सकती है। टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए विभाग द्वारा पांच टीमों का गठन किया गया है।

पशुओं को आता है तेज बुखार: डाॅ. बूरा
वीएस डाॅ. पवन बूरा ने बताया कि गलघोटू बीमारी से ग्रस्त पशुओं को बहुत तेज बुखार आता है और गले में सूजन आ जाती है। बीमारी के कारण पशु के गले से घरड़-घरड़ की आवाज आना शुरू हो जाती है और पशु चारा खाना बंद कर देता है। पशुपालकों को पशुधन की हानि से बचाने के लिए विभाग द्वारा समय-समय पर निशुल्क टीकाकरण किया जाता है।

सभी पशुओं को लगवाएं टीके: डाॅ. आर्य
पशुपालन विभाग एसडीओ डाॅ. चरणजीत आर्य ने बताया कि गलघोटू बीमारी की रोकथाम के लिए प्रत्येक पशु को टीका लगवाना चाहिए। पशुपालकों में गलत धारणा है कि दुधारू पशु को टीका लगाने से दूध कम हो जाता है जबकि टीकाकरण से दुधारू पशु के दूध में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser