कर्तव्याें के बारे में सजग करने का कार्य किया:अधिकार और कर्तव्यों के प्रति जागरूक करने के लिए सरकारी स्कूल के छात्रों ने निकाली जागरुकता रैली

कलायतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जागरुकता रैली को रवाना करते प्रधानाचार्य दीपक कौशिक व शिक्षक। - Dainik Bhaskar
जागरुकता रैली को रवाना करते प्रधानाचार्य दीपक कौशिक व शिक्षक।

सचिव जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण व मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी कैथल के निर्देशानुसार रामासं विद्यालय कलायत के छात्रों द्वारा जागरुकता रैली निकाल लोगों को अधिकारों के साथ कर्तव्याें के बारे में सजग करने का कार्य किया।

अध्यक्षता स्कूल मुखिया दीपक कौशिक ने की। जागरुकता रैली को रवाना करने से पूर्व कौशिक ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि भारतदेश जहां 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ है, वहीं देश का अपना संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था। उन्होंने कहा कि संविधान के लागू होते ही देश के प्रत्येक नागरिक को अधिकारों के कर्तव्याें का हक भी मिला था।

इस दौरान कानूनी साक्षरता प्रकोष्ठ प्रभारी व प्रवक्ता राजनीति विज्ञान ने पर्यावरण मुद्दे पर विचार व्यक्त करते कहा कि हमारे आसपास का वातावरण प्रदूषित होता जा रहा है। लोगों को इस वातावरण बारे न केवल सजग रहना चाहिए बल्कि प्रयास करना चाहिए कि किसी भी प्रकार से वातावरण प्रदूषित न होने पाए। इसके पश्चात छात्रों द्वारा निकाली जाने वाली जागरुकता रैली को स्कूल मुखिया ने झंडी दिखाकर रवाना किया।

खबरें और भी हैं...