पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिक्षा:रावमावि कलायत को मिला मॉडल संस्कृति स्कूल का दर्जा, स्कूल को आधुनिक बनाने के लिए लाखों का सामान आना हुआ शुरू

कलायतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कमरों के निर्माण व सौंदर्यीकरण के लिए विभाग को प्रेषित किया जाएगा आग्रह पत्र: डाॅ. मंजीत

खंड कलायत के 15 प्राइमरी स्कूलों के साथ राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय को भी मॉडल संस्कृति स्कूलों में शामिल किया गया है। इन स्कूलों का जहां इस समय सौंदर्यीकरण करवा इन्हें आधुनिक बनाने की दिशा में कार्य करवाया जा रहा है वहीं स्कूलों में सामान भी पहुंचना शुरू हो गया है। कलायत के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में लाखों की लागत के दर्जनों कंप्यूटरों सहित बायो लैब का सामान भी पहुंचा हुआ है जिसे स्कूल प्रधानाचार्य द्वारा पूरी तैयार सेट करवाने का कार्य किया जा रहा है।

प्रधानाचार्य डाॅ. मंजीत सिंह ने बताया कि स्कूल में जहां 20 कंप्यूटर पहुंचे हुए हैं जिन्हें व्यवस्थित तरीके से लगवाया जा रहा है वहीं इतनी ही संख्या में बायो लैब के लिए टैब स्कूल में आए हुए हैं। इसके साथ ही प्राध्यापक द्वारा जिस लैक्चर स्टैंड का प्रयोग किया जाना है, वह भी डिजिटल पोडियम है तथा श्वेत श्याम पट्ट भी डिजिटल है।

बच्चों के लिए आए कंप्यूटर में इस प्रकार की व्यवस्था है कि छात्र ने घर से जो कार्य तैयार किया है, वह उसे कंप्यूटर में सेट कर अपने द्वारा किए कार्य के बारे में बता सकता है। उन्होंने बताया कि सभी कार्य साथ ही साथ पूरे करवाए जा रहे हैं ताकि जब भी नया सत्र शुरू होगा तथा बच्चों को प्रवेश दिया जाएगा तो उसके साथ ही सुविधाएं भी मिलना शुरू हो जाएं। उन्होंने बताया कि स्कूल को मॉडल संस्कृति स्कूल का दर्जा दिए जाने के पश्चात उन सभी नॉर्म्स को पूरा किया जाना है जो सीबीएसई द्वारा निर्धारित किए हुए हैं। उन्होंने बताया कि इसके अंदर ही फायर सेफ्टी प्रमाण पत्र का होना भी आवश्यक है। उन्होंने बताया कि स्कूल में जहां अग्निशमन यंत्र मंगवाए हुए हैं वहीं फायर सेफ्टी प्रमाण पत्र लेने के लिए आवेदन भी किया हुआ है।

लगभग 2 करोड़ की राशि होगी सभी कार्यों पर खर्च

शिक्षा विभाग में तैनात कनिष्ठ अभियंता विजय बंसल से जब राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के सौंदर्यीकरण व निर्माण कार्यों पर खर्च आने वाली राशि के बारे में जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि सभी कार्यों की पूरी सूची न केवल तैयार की जा रही है बल्कि निर्माण पर खर्च होने वाली राशि का अनुमान भी लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जो कार्य करवाए जाने हैं, उनमें कमरों के साथ लैब, शौचालय, चारदीवारी सहित अन्य कार्य भी शामिल हैं जिसके चलते सभी कार्यों पर लगभग 2 करोड़ रुपए की राशि खर्च होने की संभावना है।

चयनित स्कूलों के मुखिया को दिए हुए हैं आवश्यक दिशा-निर्देश

खंड शिक्षा अधिकारी रामचंद्र मौण ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा खंड कलायत के जिन स्कूलों को मॉडल संस्कृति का दर्जा दिया गया है, उनके मुखिया को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिन स्कूलों के मुख्य द्वार के सौंदर्यीकरण के लिए राशि आई हुई है, जहां उनमें कार्य करवाया जा रहा है। वहीं जिन स्कूलों को जिस भी प्रकार की जरूरत है, उसकी जानकारी भी कार्यालय में दिए जाने के निर्देश दिए हुए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें