लाइन बिछेगी:कलायत के बरसाती पानी निकासी को बिछेगी लाइन, वे स्थान भी चिन्हित कर लिए गए है जहां पानी का ठहराव होता

कलायत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पौराणिक कपिल तीर्थ को भी पानी निकास करने वाले स्थानों में रखा गया

जलभराव की समस्या को लेकर नगरपालिका चेयरपर्सन शशी बाला कौशिक व उपप्रधान पूजा धीमान समेत पार्षदों ने इस मुद्दे को महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री के सामने रखा था। जिन्होंने संज्ञान लेते जन स्वास्थ्य विभाग के अधीक्षक अभियंता अशोक खंडूजा को पानी निकास करने के साथ समुचित व्यवस्था बनाए जाने के निर्देश भी दिए थे।

चेयरपर्सन शशिबाला कौशिक ने बताया कि कलायत के बरसाती पानी के साथ गंदे पानी की निकासी कलायत से करीब 17 किलोमीटर दूर अमीन ड्रेन में डालने के लिए कार्रवाई को आगे बढ़ाया जा रहा है। इस कार्य को पूरा करने में करीब 18 करोड़ रूपए खर्च आएंगे और एस्टीमेट भी तैयार हो चुका है। वहीं वे स्थान भी चिन्हित कर लिए गए है जहां पानी का ठहराव होता है। पौराणिक कपिल तीर्थ को भी पानी निकास करने वाले स्थानों में रखा गया है। उन्होंने बताया कि इस पानी को निकास करने के लिए एक विशाल टैंक बनाया जाएगा जिसमें बरसात होने पर पानी इसमें पाइपों के साथ आ जाएगा। यहां से पानी एसटीपी में पहुंचेगा और फिर अमीन ड्रेन में डाला जाएगा। यह कार्य स्थाई तौर पर निकासी के लिए तैयार किया जाएगा जिसमें से न केवल बरसाती पानी की निकासी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...