पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जलस्तर घटा:यमुना नदी का जलस्तर 60,645 से घटकर 24460 क्यूसेक पहुंचा

खिजराबाद17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

यमुना नदी में मंगलवार काे आया उफान बुधवार को कम हो गया। हथिनीकुंड बैराज पर नदी का जलस्तर 60,645 क्यूसेक से घटकर 24,460 रिकॉर्ड हुआ। यमुना में 6000 क्यूसेक पानी मांग से अधिक बह रहा है, जिसे जल बंटवारे के बाद फिर से नदी में छोड़ा जा रहा है।

नागल ड्रेन की बाढ़ के कारण खिजराबाद, किशनपुरा, बहादुरपुर समेत कई गांव की कृषि सिंचाई के बने रजबाहे टूट जाने से जलापूर्ति ठप हो गई। सिंचाई विभाग के एसडीओ धर्मपाल ने बहादुरपुर का दौरा कर नागल ड्रेन के बाढ़ से टूटे किनारे की जल्द रिपेयर का आश्वासन दिया।

पहाड़ी क्षेत्रों में बरसात कम होते ही नदी में जलस्तर घटने लगा है। सिंचाई विभाग के हथिनीकुंड बैराज कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार को दोपहर में नदी का जलस्तर 60,645 रहा। बुधवार दोपहर यह कम होकर 24460 क्यूसेक हो गया। पश्चिमी यमुना नहर में 16,508 क्यूसेक व यूपी की पूर्वी नहर में 1,802 क्यूसेक पानी की आपूर्ति की जा रही है।

खबरें और भी हैं...