पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गेहूं की खरीद:मंडियों में हुई 1457 एमटी गेहूं की आवक, सात ड्यूटी मजिस्ट्रेट रखेंगे खरीद पर नजर

कुरुक्षेत्र12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गेहूं खरीद सुचारू करवाने के लिए 7 अधिकारियों को नियुक्त किया ड्यूटी मजिस्ट्रेट

डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि गेहूं खरीद के सीजन में खरीद एजेंसियों द्वारा अलग-अलग खरीद केंद्रों से 5 अप्रैल तक 1457 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है। मंडियों व खरीद केंद्रों पर फसल को लेकर आने के लिए प्रशासन द्वारा एक शेड्यूल बनाया है। जिसके तहत ही किसानों को फसल बेचने के लिए बुलाया जा रहा है। इसलिए सभी किसान निर्धारित शेड्यूल के अनुसार ही मंडियों में फसल को लेकर आए।

डीएफएससी ने खरीदी सबसे ज्यादा: बराड़ ने कहा कि खरीद केन्द्रों पर 5 अप्रैल तक खरीद एजेंसियां द्वारा 1457 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है। जिसमें से खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा 724 एमटी व हैफेड द्वारा 733 एमटी गेहूं की खरीद की गई है।

शाहाबाद मंडी में 811 एमटी, लाडवा मंडी में 346 एमटी, पिपली मंडी में 122 एमटी और कुरक्षेत्र मंडी में 39 एमटी गेहूं की खरीद की गई है। सभी खरीद केन्द्रों पर गेहूं खरीद का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि संबंधित खरीद केंद्रों पर नजर रखे ताकि किसी प्रकार की कोई समस्या न आए।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न खरीद एजेंसियों के माध्यम से 1 अप्रैल 2021 से गेहूं खरीद का कार्य शुरू कर दिया है और किसान अपनी फसल को बेचने के लिए मंडियों व खरीद केंद्रों में लेकर पहुंच रहे हैं।

सात ड्यूटी मजिस्ट्रेट: गेहूं खरीद सीजन-2021 को सुचारू रूप से चलाने व मंडियों से खरीद की गई गेहूं का समय पर उठान व अन्य सभी आवश्यक प्रबंधों के लिए 7 अधिकारियों को नोडल अधिकारी व मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। इस कार्य के लिए एडीसी को ओवरऑल इंचार्ज बनाया है।

उपमंडल अधिकारी थानेसर को थानेसर उपमंडल, उपमंडल अधिकारी पिहोवा को पिहोवा उपमंडल, उपमंडल अधिकारी शाहाबाद को शाहाबाद उपमंडल, उपमंडल अधिकारी लाडवा को लाडवा उपमंडल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद कुरुक्षेत्र को पिपली अनाज मंडी व क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण कुरुक्षेत्र को सभी मंडियों के लिए परिवहन मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है।

उन्होंने कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने-अपने कार्यक्षेत्र में खरीद से संबंधित सभी आवश्यक प्रबंध व मंडियों से खरीद की गई गेहूं का समय पर उठान करवाना सुनिश्चित करें ताकि गेहूं खरीद का कार्य सफलतापूर्वक सम्पन्न किया जा सके।

पिपली अनाज मंडी में शुरू हुई गेहूं की सरकारी खरीद

पिपली अनाज मंडी में गेहूं की सरकारी खरीद मंगलवार से शुरू हुई। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के इंस्पेक्टर बृजमोहन की अगुवाई में खरीद एजेंसी ने एक हजार क्विंटल गेहूं की खरीद की। खरीद एजेंसी के अधिकारियों ने मंडी में दुकानों पर जाकर गेहूं का जायजा लिया। 12 प्रतिशत से अधिक नमी वाली गेहूं को सुखाने के निर्देश दिए। पिपली अनाज मंडी में इस सीजन की गेहूं खरीद पांच दिन बाद शुरू हुई।

सरकार ने मंडी में गेहूं खरीद करने की सरकारी घोषणा एक अप्रैल को की थी। गेहूं में नमी के चलते और किसानों को मंडी में गेहूं लाने के मैसेज न मिलने के चलते किसान गेहूं को मंडी में लाने में असमर्थ थे। जिन किसानों की गेहूं पक गई थी, उन्हें मैसेज नहीं मिले, बल्कि उन किसानों को मैसेज जा रहे थे, जिनकी फसल अभी कटी नहीं थी।

सोमवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा करनाल में किसानों के साथ बैठक के दौरान मंडी में गेहूं बेचने के लिए आने वाले किसानों को पंजीकरण दिखाकर गेट पास काटने की घोषणा की थी, जिससे किसानों को राहत मिली थी। इसी राहत के चलते मंडी में गेहूं की आवक भी शुरू हो गई।

दि न्यू कमीशन एजेंटस एसोसिएशन पिपली मंडी के प्रधान जोगिंद्र सिंह, सरंक्षक नरिंद्र पाल झांब, महासचिव सुरेंद्र बोडला व पूर्व मंडी महासचिव धर्मपाल ने सरकार का गेट पास सिस्टम में बदलाव पर आभार जताया । निरीक्षक बृज मोहन ने बताया कि किसान मंडी में जो गेहूं बेचने के लिए लेकर आ रहे हैं, उसमें नमी ज्यादा है। सरकार की ओर से तय मापदंड अनुसार 12 प्रतिशत से अधिक नमी वाली गेहूं की खरीद नहीं की जाए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें