कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय:केयू की कार्यशाला के लिए 325 शोध पत्र आए, 60 को किया स्वीकार

कुरुक्षेत्र6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के यूआईईटी संस्थान में मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं स्प्रिंगर की ओर से आयोजित दो दिवसीय ऑनलाइन अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला का समापन हो गया। केयू के डीन इंजीनियरिंग-टेक्नाेलाॅजी एवं यूआईईटी के निदेशक प्रो. सीसी त्रिपाठी ने बताया कि इस कार्यशाला में टर्की, बांग्लादेश, इटली व अन्य देशों के साथ भारत के विभिन्न राज्यों के विशेषज्ञों ने इमर्जेंट कनवर्जिंग टेक्नोलॉजी और बायोमेडिकल सिस्टम पर शोध पत्र पढ़े।

आयोजन सचिव डॉ. निखिल मारीवाला ने बताया की कार्यशाला के लिए 325 शोध पत्र आए, जिसमें से 60 शोधपत्रों को स्वीकार किया गया। डॉ. मारीवाला ने बताया कि इन शोधपत्रों को स्प्रिंगर कंपनी द्वारा लेक्चरर नोट्स इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में प्रकाशित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...